Patrika Hindi News

> > > Indian Army against Pakistani Tweets

इंडियन आर्मी में सिखों को 'भड़काने' की कोशिश कर रहा पाक

Updated: IST indian army sikh regiment
पाकिस्तान लाख चेतावनी के बावजूद अपनी शैतानी हरकतों से बाज नहीं आ रहा, एक बार फिर पाक ने साजिश रची है जिसमें वह इंडियन आर्मी के सिखों को बहका रहा है...

नई दिल्ली। पाकिस्तान लाख चेतावनी के बावजूद अपनी शैतानी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। एक बार फिर पाक ने साजिश रची है जिसमें वह इंडियन आर्मी के सिखों को बहका रहा है। दरअसल पाकिस्तानी सोशल मीडिया के जरिए एक भारतीय सिख सैनिक के पाकिस्तान पर हमला करने के लिए कथित तौर पर आत्महत्या करने से जुड़ी अफवाह वायरल की जा रही है। जिसकी जानकारी इंडियन आर्मी ने कोलकाता स्थित पूर्वी मुख्यालय को इस बारे में अलर्ट किया है।

कमांड मुख्यालयों को आर्मी हेडक्वॉर्टर की ओर से भेजी गई जानकारी के मुताबिक, 'पाकिस्तानी ट्विटर हैंडल्स और अन्य सोशल मीडिया माध्यमों पर हैशटैग #RestinPeacebalbirSingh के जरिए एक अफवाह फैलाई जा रही है। कहा जा रहा है कि हिंदुओं की ज्यादती और पाकिस्तान के प्रति वफादरी के चलते एक सिख सैनिक ने सुसाइड कर लिया। यह भी कहा जा रहा है कि सिख पाकिस्तान के खिलाफ जंग नहीं लडऩा चाहते। ऐसे दो ट्वीट भेजे जा रहे हैं। कृपया कमांडरों और सैन्य टुकडिय़ों को सतर्क करें।'

एक सीनियर अफसर ने बताया, हाल के वक्त में बलबीर सिंह नाम के किसी सैनिक ने सुसाइड नहीं किया है। अफसर के मुताबिक, यह पाकिस्तान की भारतीय सेना के भीतर समस्या पैदा करने की साजिश है। अफसर के मुताबिक, किसी भी सैन्यकर्मी ने लाइन ऑफ कंट्रोल के पार आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई का विरोध नहीं किया है।

#RestinPeacebalbirSingh हैशटैग से शेयर किए गए शुरुआती ट्वीट में लिखा गया है, 'हम पाकिस्तानी आपके पवित्र स्थानों का सम्मान करते हैं।' इसमें एक फोटोग्राफ है, जिसका कैप्शन है, 'भारतीय सेना में काम कर रहे सिख सैनिकों के लिए बलबीर सिंह का आत्महत्या करना चौकन्ना होने का समय है। 1947 से ही सिखों का हिंदुओं द्वारा अपने फायदे के लिए इस्तेमाल हो रहा है।' इसके जवाब में एक अन्य ट्वीट में कहा गया, 'बलबीर सिंह ने साबित किया कि गुरु नानक देव जी की धरती पाकिस्तान पर हमला करने से बेहतर आत्महत्या करना है।' एक तीसरे ट्विटर हैंडल से कहा गया, 'उसने इसलिए सुसाइड किया क्योंकि वह पाकिस्तान और भारत की जंग के खिलाफ था।' हालांकि अब इस मामले की जांच होनी है कि इसमें कितनी सच्चाई है या यह महज एक अफवाह है।
बता दें कि जंग के हर मोर्चे पर सिख अब आगे आ रहे हैं। एक सीनियर आर्मी अफसर ने कहा, '1948, 1965, 1971, कारगिल से लेकर कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन, हर जग सिखों ने सामने से अगुआई की है। पाकिस्तान इस बात से वाकिफ है, इसलिए सिखों के बीच कन्फ्यूजन फैलाना चाहता है। हमने कमांडरों को जरूरी कदम उठाने के लिए कहा है।'

देखें कुछ पाकिस्तानी ट्विटर एकाउंट से किए गए ट्वीट

यह भी पढ़े :

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???