Patrika Hindi News

> > > Indian UN envoy Eenam Gambhir’s reply to Pakistan goes viral

युवा डिप्लोमेट एनएम गंभीर ने पाक को सुनाई खरी-खोटी, भाषण हुआ वायरल

Updated: IST MN Gambhir
देश की युवा डिप्लोमैट और संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के परमानेंट मिशन की पहली सेके्रटरी एनम गंभीर ने अपने प्रभावशाली भाषण से पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया।

नई दिल्ली। जहां एक और देश के हर कोने से पाकिस्तान पर जुबानी हमला किया जा रहा है वहीं विदेश से भी एक जोरदार स्वर सुनाई दिया है। जी हां, देश की युवा डिप्लोमैट और संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के परमानेंट मिशन की पहली सेके्रटरी एनम गंभीर ने अपने प्रभावशाली भाषण से पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया।

यूएन की महासभा के 71वें सत्र की जनरल डिबेट में भारत के राइट टु रिप्लाई का इस्तेमाल करते हुए एनम गंभीर ने पाक को खरी-खोटी सुनाई। एनम ने अपने प्रभावशाली भाषण में कहा, 'जब आतंकवाद को स्टेट पॉलिसी के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है तो यह युद्ध अपराध कहलाता है। आतंकवाद को स्पॉन्सर करना पाकिस्तान की पुरानी नीति रही है। इसके नतीजे हमारे आस-पड़ोस के इलाकों से आगे भी दिखाई दे रहे हैं।

यह कितना विरोधाभासी है कि जिस देश ने अपने यहां आतंकवाद को ज्न्म दिया, वह मानवाधिकारों की बात कर रहा है। प्राचीन भारत में तक्षशिला ज्ञान का केंद्र हुआ करता था लेकिन अब वहां आंतकियों की कतार लगी है।' उन्होंने अपने भाषण में 11 सितंबर को अमेरिका पर हुए आतंकी हमले की याद भी दिलाई। एनम ने साफ शब्दों में कहा कि मानवाधिकारों की बात करने वाले पाकिस्तान का रवैया कितना पाखंडी और दोहरा है यह पुरी दुनिया अच्छे से समझ गई है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा कश्मीर का मुद्दा उठाए जाने के कुछ घंटे बाद भारत ने गुरुवार को पाकिस्तान पर तीखा हमला बोलते हुए उसको एक आतंकी देश बताया जोकि आतंकवाद को प्रायोजित करने की अपनी रणनीति के जरिए भारतीयों के खिलाफ युद्ध अपराधों को अंजाम देता है। एनम ने कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर और मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड जकीउर रहमान लखवी जिन्हें संयुक्त राष्ट्र ने आतंकवादी करार दिया है, वे पाकिस्तान की सड़कों पर खुलेआम घूमते हैं और सरकार की मदद से अपनी गतिविधियों को अंजाम देते हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे