Patrika Hindi News

शहीद फिरोज डार के परिवार से मिलीं मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती 

Updated: IST CM Mehbooba Mufti
मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती शहीद एसएचओ फिरोज डार के घर गई और परिवार से अपनी संवेदनाएं जताईं।

श्रीनगर। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती सोमवार को शहीद एसएचओ फिरोज डार के घर गई और परिवार से अपनी संवेदनाएं जताईं। मुख्यमंत्री ने मृत पुलिस अधिकारी के माता-पिता, पत्नी और दो बच्चों के दु:ख को साझा किया। उन्होंने शहीद के पिता अब्दुल रशीद डार से कहा कि सरकार शहीद के परिवार का पूरा ध्यान रखेगी।

आवास ऋण के पुनर्गठन का आश्वासन दिया
महबूबा मुफ्ती ने अधिकारियों को कहा कि वह परिवार के सदस्य को नौकरी देने के मामले की फाइल जल्द से तैयार करें। मुख्यमंत्री ने परिवार को आश्वासन दिया कि वहआवास ऋण के पुनर्गठन की मांग पर गौर करेंगी, मृतक ने घर के निर्माण के लिए ऋण लिया था। उन्होंने कहा कि राष्ट्र शहीद का हमेशा कर्जदार रहेगा।

Image may contain: 1 person

जम्मू कश्मीर के नेताओं पर बरसे पुलिसकर्मी
कश्मीर में आतंकी हमलों में शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि नहीं देने पर पुलिसकर्मी भडक़ उठे हैं। इसको लेकर इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (आईजीपी) कार्यालय में तैनात एसपी रैंक के एक पुलिस अधिकारी ने सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास निकाली है। ताहिर अशरफ नाम के इस पुलिस अधिकारी ने ट्वीट कर कहा है कि राज्य में जिन लोगों को पुलिस प्रोटेक्शन या मदद मिली है, जब वे लोग भी ऐसे मौके पर हमारे साथ खड़े नहीं तो दुख होता है।

ये भी पढ़ें-

शहीदों के परिजनों को 1 करोड़ का मुआवजा देने की मांग
पुलिस अधिकारी ताहिर अशरफ ने एक और ट्वीट कर सवाल किया कि राज्य सरकार हर पीडि़त परिवार को 1 करोड़ रुपए का मुआवजा क्यों नहीं देती है। उन्होंने यह सवाल सरकार के उस ट्वीट पर उठाया है जिसमें सरकार ने आतंकी हमलों में शहीद पुलिसकर्मियों को पुलिस की ओर से एक दिन का वेतन देने की बात कही थी। अशरफ ने कहा कि हम राज्य के लिए काम करते हैं खुद के लिए नहीं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???