Patrika Hindi News

> > > Labour ministry data shows massive incrase in bonded labour

दुखद: देश में लगातार बढ़ रहे बंधुअा मजदूर, 4 हजार में 15 घंटे काम 

Updated: IST Bonded labour in India
श्रम मंत्रालय ने ताजा आंकड़े जारी करते हुए चिंता जताई।

नई दिल्ली. देश में बंधुआ मजदूरों की संख्या बढ़ रही है। मध्य प्रदेश और राजस्थान ऐसे मजदूरों वाले शीर्ष दस राज्यों में हैं। श्रम मंत्रालय के आंकड़ों में इसकी जानकारी मिली।

Image result for bonded labour india

- 3,02,391 बंधुआ मजदूर हैं देश में
- 10 राज्यों में सबसे ज्यादा ऐसे मजदूर एमपी और राजस्थान शामिल
- 13,317 बंधुआ मजदूर मध्यप्रदेश में हैं
- 7,713 बंधुआ मजदूर राजस्थान में हैं
- 05 फीसदी मालिकों पर ही कार्रवाई हो पाती है देशभर में
Image result for bonded labour india

कहां कितने मजदूर

तमिलनाडु- 65,573
कर्नाटक - 64,600
ओडीशा- 50,441
आंध्र प्रदेश- 38,141
उत्तर प्रदेश- 37,788
बिहार- 15,395
मध्य प्रदेश- 13,317
राजस्थान- 7,713
अन्य- 9,423

Related image

कितने घंटे काम

- 11 से 15 घंटे लगातार काम करना पड़ रहा
- 04 हजार से 07 हजार रुपये मासिक वेतन
- 88 फीसदी मजदूरों से जबरन ज्यादा काम लिया जा रहा
- 98 फीसदी ने कहा मजबूरी बड़ी वजह
- 30 दिनों में केवल दो दिन छुट्टी मिलती है इन्हें

Image result for bonded labour india

किन देशों में ज्यादा बंधुआ मजदूर

अफ्रीका- 68 फीसदी
खाड़ी देश- 55 फीसदी
पाकिस्तान- 15 फीसदी
यूरोप- 01 फीसदी
अमरीका- 0.5 फीसदी

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???