Patrika Hindi News

'संस्कारी बहू' विवाद में राबड़ी के बचाव में आए लालू

Updated: IST lalu yadav
आरजेडी प्रमुख लालू यादव की पत्नी रबाड़ी देवी अपने दोनों बेटों के लिए संस्कारी बहू खोज रही हैं।

आरजेडी प्रमुख लालू यादव की पत्नी रबाड़ी देवी अपने दोनों बेटों के लिए संस्कारी बहू खोज रही हैं। उन्होंने लालू के जन्मदिन के मौके पर कहा कि उन्हें ऐसी बहू चाहिए जो मॉल और मूवी थियेटर नहीं जाएं। जिसके बाद सोशल मीडिया समेत कई जगहों पर उनकी आलोचना हुई। लोग सवाल उठाने लगे कि क्या मूवी देखने और थियेटर जाने वाली लड़कियां संस्कारी नहीं होती। जिसके बाद लालू यादव अपनी पत्नी के बचाव में आ गए। लालू ने टि्वटर पर लिखा कि राबड़ी के बयान को लोगों ने तोड़ मरोड़ कर पेश किया। राबड़ी ने ये नहीं कहा कि मॉल जाने वाली लड़कियां संस्कारी नहीं होती। उन्होंने लिखा कि संस्कारी बहू का मतलब लड़की की इच्छा शक्ति मजबूत हो, सरल स्वभाव और परिवार की देखभाल करने वाली हो जो घर को अच्छे से संभाले। गौरतलब है कि राबड़ी ने कहा था कि तेज प्रताप बहुत ही धार्मिक हैं, इसलिए उन्हें उनके लिए संस्कारी बहू चाहिए। लालू यादव के नौ बच्चें हैं, जिसमें 7 बेटियां और 2 बेटे हैं। लालू ने अपनी सभी बेटियों की शादी कर दी है। जबकि बिहार सरकार में मंत्री दोनों बेटे अभी कुंवारे हैं।

Image may contain: text

अपने देसी अंदाज के लिए जाने जाते हैं लालू-राबड़ी
बिहार में जन्मे लालू यादव ने जेपी आंदोलन से अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की। केंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके लालू यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी अपने देसी अंदाज के लिए जाने जाते हैं। लालू-राबड़ी ने घर में कई गाय-भैंस पाले हैं। घर में तमाम नौकर होने के बावजूद लालू समय निकाल कर अपने जानवरों की देखभाल खुद करते हैं।

यह भी पढ़ें:राबड़ी देवी को नहीं चाहिए मॉल जाने वाली बहू

कन्हैया के रूप में नजर आए थे तेज प्रताप
लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप भगवान में बहुत आस्था रखते हैं। इस बार नया वर्ष तेज प्रताप ने भगवान कृष्ण की वेशभूषा धारण कर मनाया था। तेज प्रताप ने इस दौरान पगड़ी पहनी जिस पर मोर के पंखे लगे हुए थे। पगड़ी पहनकर वे गौशाल पहुंच गए थे जहां उन्होंने बांसुरी बजाई थी। पहले भी कई बार तेज प्रताप बांसुरी बजाते नजर आए हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???