Patrika Hindi News

कार्यकाल खत्म होने से पहले राष्ट्रपति ने खारिज की 2 और क्षमा याचिका

Updated: IST president reject murcy petition
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अपने कार्यकाल खत्म होने से करीब एक महीने पहले दो और क्षमा याचिकाओंको खारिज कर दिया है।

नई दिल्ली: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अपने कार्यकाल खत्म होने से करीब एक महीने पहले दो और क्षमा याचिकाओंको खारिज कर दिया है। इससे पहले राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी 28 क्षमा याचिकाएं रद्द कर चुके हैं। यानी राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 30 क्षमा याचिका रद्द कर चुके हैं। राष्ट्रपति ने इन याचिकाओं को मई के आखिरी हफ्ते में खारिज किया है।

दो केस में लगी थी क्षमा याचिका
पहला केस इंदौर का है . जहां 2012 में चार साल की एक बच्ची का रेप और फिर उसकी हत्या कर दी गई थी। जिसमें तीन लोगों को दोषी पाया गया था। वहीं दूसरा केस पुणे का है, जिसमें कैब ड्राइवर पर अपने साथी के साथ मिलकर युवती का रेप और हत्या के मामले में दोषी हैं।

इंदौर और पुणे के थे मामले
दोनों केस राष्ट्रपति को अप्रैल और मई में भेजे गए थे। इंदौर केस में बाबू उर्फ केतन (22), जितेंद्र उर्फ जीतू (20) और देवेंद्र उर्फ सनी (22) पर चार साल की बच्ची का अपहरण, रेप और हत्या का आरोप था, जिसमें सभी दोषी पाए गए हैं। दूसरा मामला पुणे का है, जिसमें पुरुषोत्म दसरथ बोरेट और प्रदीप यशवंद कोकडे को विप्रों में काम करने वाली एक 22 वर्षिय युवती की हत्या और रेप के मामले में दोषी पाया गया है। इन मामलों में कोर्ट ने दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है।

26/11 हमले के दोषी को भी क्षमा याचिका रद्द
इसके अलावा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 26/11 हमले के दोषी अजमल कसाब, 2001 संसद हमले में दोषी अफजल गुरु, मुंबई ब्लास्ट में दोषी याकुब मेनन की भी क्षमा याचिका खारिज कर दी थी।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???