Patrika Hindi News

दिल्ली में 'जय माता की' नहीं बोलने पर 3 छात्रों की बेरहमी से पिटाई

Updated: IST Madrasa Students
तीनों छात्र बेगमपुरा के ही एक मदरसे में पढ़ते हैं, दिलकश ने बताया कि हमें वह शायद टोपी लगाने की वजह से पहचान गए थे, उन्होंने हमसे जय माता की बोलने के लिए कहा थाउन्होंने हमसे जय माता की बोलने के लिए कहा था

नई दिल्ली। भारत माता की जय बोलने न बोलने का विवाद इतना तेजी से फैल गया है कि यह जानलेवा भी हो सकता है। दिल्ली की भीड़ ने एक बार फिर अपना असली चेहरा दिखाया है और इस भीड़ के हाथों पिटाई की घटना थम नहीं रही है। बेगमपुरा क्षेत्र में तीन छात्रों की बेरहमी से पिटाई इसलिए कर दी गई क्योंकि उन्होंने जय माता की बोलने से इनकार कर दिया। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार दिलकश और उसके दो दोस्त अजमल और नईम की पिटाई कुछ लोगों ने की।

तीनों छात्र बेगमपुरा के ही एक मदरसे में पढ़ते हैं। दिलकश ने बताया कि हम मदरसे से करीब 300 मीटर की दूरी पर स्थित पार्क में खेल रहे थे। वहां हम पर एक ग्रुप के कुछ लोगों ने हमला कर दिया। हमें वह शायद टोपी लगाने की वजह से पहचान गए थे। उन्होंने हमसे जय माता की बोलने के लिए कहा था।

हालांकि पुलिस ने दिलकश की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस विक्रमजीत सिंह का कहना है कि हम मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। लड़कों ने अपनी शिकायत में इस बात का जिक्र किया है कि उन्हें जबरन जय माता की कहने के लिए मजबूर किया गया था। उनके साथ मारपीट की गई और इसी में दिलकश का फ्रैक्चर भी हुआ।

पुलिस के मुताबिक घटना 26 मार्च की है जब तीन लड़कों ने पुलिस कंट्रोल रूम को फोन किया और एक लड़ाई की शिकायत की थी। जब पुलिस की एक टीम वहां पहुंची तब यह कहा गया था कि क्षेत्र में एक मदरसे के पास एक पार्क में 18 और 21 वर्ष की उम्र के बीच के तीन युवकों ने उन्हें कथित तौर पर पीटा था।

पीड़ित तीनों छात्र बिहार के पूर्णिया के रहने वाले हैं। पिछले साल तीनों पढ़ने के लिए दिल्ली आए थे। तीनों छात्र रमेश एनक्लेव के फैज-उल-उलूम गौसिया मदरसे में पढ़ाई करते हैं। दिल्ली में कुछ दिन पूर्व ही विकासपुरी में एक डेंटिस्ट की कुछ लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???