Patrika Hindi News

> > > Britain will fight against terrorism, will recruit 1000 Spy

ब्रिटेन लड़ेगा आंतकवाद के खिलाफ लड़ाई, भर्ती होंगे 1000 जासूस

Updated: IST spy
ब्रिटेन की खूफिया एजेंसी एमआई-6 में जुड़ेंगे 40 फीसदी ज्यादा जासूस, आतंकवाद से मुकाबले और डिजिटल तकनीक के बेहतर इस्तेमाल को लेकर यह फैसला किया गया है।

लंदन. ब्रिटेन की विदेशों में काम करने वाली खुफि या एजेंसी एमआई-6 के साथ अब 40 फ ीसदी ज्यादा जासूस जोड़े जाएंगे। नई तकनीक के बेहतरीन इस्तेमाल और जासूसों के दम पर ब्रिटेन अब आतंकवादियों से लडऩे की तैयारी कर रहा है। एमआई6 का यह अब तक सबसे बड़ा विस्तार होगा।

2020 तक 3500 होंगे जासूस

एमआई-6 ने 2020 तक अपनी क्षमता 2500 से 3500 करने का फैसला किया है।

एमआई-6 के जासूसों का काम विदेशों में ब्रिटेन और उसके हितों की रक्षा करना होता है। इसके अलावा ब्रिटेन अपनी दो अन्य एजेंसियों एमआई-5 और जीसीएचक्यू के लिए भी नौ सौ कर्मचारियों की भर्ती करेगा।

एमआई.6 प्रमुख एलेक्स यंगर ने कहा कि इंटरनेट और तकनीक अवसर के साथ-साथ अस्तित्व के लिए खतरा भी पैदा कर रहा है। इस बदलाव ने एजेंसियों के कामकाज का तरीका बदल दिया है। एमआई-6 का बदलाव भी इसी का एक हिस्सा है।

दो तरह की खुफिया एजेंसियां होंगी आने वाले पांच साल में

अगले पांच साल में दो तरह की खुफि या एजेंसियां होंगी। पहली वे होंगी जिन्हें बदलते माहौल के हिसाब से समृद्ध किया गया होगा और दूसरी वह होंगी जो बदलाव को नहीं मानेंगे। वे चाहते हैं कि एमआई-6 पहले श्रेणी की एजेंसी हो।

एमआई6 के प्रमुख एलेक्स यंगर ने पिछले सप्ताह कहा था कि पश्चिमी देशों के लिए मौजूद इस्लामी आतंकवाद का खतरा आने वाले कई सालों तक बना रहेगाए क्योंकि आईएसआईएस से इलाके वापस छीन लेने भर से वह समस्या हल नहीं हो सकती, जो आतंकवाद के दुनिया के हर कोने तक पहुंच जाने से पैदा हुई है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे