Patrika Hindi News
UP Election 2017

बीमार कैदी पुलिस को दे गया दर्द, जानिए पूरा मामला

Updated: IST prisoner escaped
जेल में बंद कैदी को पेट में दर्द की शिकायत हुई तो दो सिपाही से अस्पताल लेकर पहुंचे...

मुरादाबाद: शहर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र स्थित संयुक्त जिला अस्पताल में उस वक्त हडकंप मच गया जब जेल से आया एक कैदी सिपाहियों को चकमा देकर बाथरूम की खिड़की काटकर फरार हो गया. सिपाहियों को पता तब चल जब काफी देर तक कैदी बाहर नहीं आया और फिर दरवाजा तोड़ा तो उनके होश उड़ गए. आनन—फानन में पुलिस के साथ ही जेल अधिकारियों को भी सूचना दी गयी. मौके पर इंस्पेक्टर सिविल लाइन फ़ोर्स के साथ पहुंचे और फरार कैदी की तलाश की लेकिन वह हाथ नहीं लगा.

बाथरूम गया कैदी

दरअसल जिला जेल में बंद हिस्ट्रीशीटर तौफीक पेट दर्द की शिकायत लेकर सिपाही अशोक और धीरेन्द्र के साथ अस्पताल आया था. इमरजेंसी में दाखिल होने के बाद डॉक्टरों ने उसे वार्ड में ही दाखिल कर लिया. इसी दौरान पहले से रची साजिश के मुताबिक बंदी तौफीक ने बाथरूम जाने का बहाना बनाया. दोनों सिपाही बाहर उसका इंतजार करते रहे और वो ग्रिल निकालकर फरार हो गया. दोनों सिपाहियों को इस बात का पता भी नहीं चला. जब काफी देर तक तौफीक नहीं निकला तो दरवाजा तोड़ा गया और उनके होश उड़ गए. कैदी वहां से वो फरार हो चूका था.

पुलिस कर रही पूछताछ

दोनों ने फौरन ही जेल अधिकारियों को इस बारे में सूचना दी और सिविल लाइन पुलिस को भी जानकारी दी गई. इंस्पेक्टर सिविल लाइन डीके शर्मा मौके पर पहुंचे और सिपाहियों व् अस्पताल स्टाफ से पूछताछ की. गुरुवार शाम तक फरार कैदी का सुराग नहीं लग सका था. अब देखना है कि पुलिस और जेल अधिकारी इस मामले में किसकी लापरवाही मानते हैं और क्या कार्यवाही होती है. यहां बता दें की इससे पहले भी इलाज को जिला अस्पताल आये कई कैदी भाग चुके हैं उसके बाद भी पुलिस ने कोई सबक नहीं लिया.

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???