Server 209
Most wanted of India Hafiz Saeed openly leads mass rally

Related News

कश्मीर की आजादी तक आतंक बंद नहीं- हाफिज सईद

Most wanted of India Hafiz Saeed openly leads mass rally

print 
Most wanted of India Hafiz Saeed openly leads mass rally
9/7/2013 10:09:00 AM
Most wanted of India Hafiz Saeed openly leads mass rally
Most wanted of India Hafiz Saeed openly leads mass rally
इस्लामाबाद। शुक्रवार को पाकिस्तान में निकाली गई भारत विरोधी रैली में हाफिज सईद भारत के खिलाफ आग उगलता नजर आया। रैली लाहौर से इस्लामाबाद तक गई थी जिसमें करीब 10 हजार लोग शामिल हुए। रैली के इस्लामाबाद पहुंचने के बाद हाफिज सईद ने मौजूद भीड़ को संबोधित किया। मुंबई हमले का मास्टर माइंड और खूंखार आतंकी हाफिज सईद ने कहा कि जब तक कश्मीर को आजादी नहीं मिलेगी तब तक भारत के खिलाफ आतंक भी खत्म नहीं होगा। इसके साथ ही भारत की और नीतियों को भी रैली में विरोध किया गया।
रैली में मौजूद भीड़ से हाफिज ने कहा कि अमरीका और भारत हमसे नाराज है तो इसका मतलब है कि खुदा हमसे खुश है। इसके बाद भीड़ ने जिहाद-जिहाद चिल्लाना शुरू कर दिया। एक पूर्व प्रोफेसर ने कहा कि वो लोग कश्मीर के लिए कुछ भी कुर्बान करने के लिए तैयार हैं।
सरबजीत जिसकी मौत पाकिस्तान एक जेल में हो गई थी को सईद ने आतंकी बताया और कहा कि भारत सरकार एक आतंकी का कैसे आदर कर सकती है। इसका मतलब भारत सरकार और सेना आतंकी है।
कश्मीर मुद्दें पर सईद ने कहा कि भारत यह कहना छोड़ दे कि कश्मीर उसका अभिन्न हिस्सा है वरना हमारे लिए भारत के हर एक हिस्से को अलग करना कोई मुश्किल नहीं है। इसके साथ ही कुछ लोग काला और सफेद रंग का झंडा फहराते हुए गाने गा रहे थे जिसके बोल थे कि पूरे भारत को मुंबई में बदल दो।
भारत के साथ ही रैली में पश्चिमी देशों की नीतिओं का भी विरोध किया और उन्होंने अफगानिस्तान में पश्चिमी सेना के साथ लड़ रहे तालिबानियों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की।

हाफिज सईद क्यों है भारत से खफा ?
भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में खटास की एक वजह हाफिज सईद भी है। क्योंकि भारत ने मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को सौंपने के लिए पाकिस्तान से कहा था। लेकिन पूरे सबूत दिए जाने के बाद भी पाक ने भारत को सईद नहीं सौंपा। सईद लश्कर ए तैयबा का संस्थापक है जिसे पाकिस्तान में प्रतिबंधित किया गया है। लश्कर ए तैयबा सईद ने जमात उल दावा नाम से एक पार्टी का गठन किया जो कि लश्कर ए तैयबा जैसा ही काम करती है। सईद की रिश्ते पाक सरकार और सेना के नजदीक रहे हैं और इतना ही नहीं हाफिज सईद पाक सरकार को फंड भी देता रहा है।
भारत के लिए वांटेड सईद के उपर अमरिका ने भी 10 मिलियन डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है।
रोचक खबरें फेसबुक पर ही पाने के लिए लाइक करें हमारा पेज -
अपने विचार पोस्ट करें

Comments
Top