Patrika Hindi News

Maha को नया CM मिलने की उम्मीद, फडणवीस बन सकते हैं रक्षा मंत्री

Updated: IST Devendra Fadnavis
मीडिया रिपोर्टों में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि बीजेपी का आलाकमान रक्षा मंत्री पद के लिए जिन नामों पर विचार कर रहा है, उनमें फडणवीस का नाम भी है

मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को राज्य से हटाकर देश की सियासत में बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने की चर्चा है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बीजेपी आलाकमान देवेंद्र फडणवीस को रक्षा मंत्रालय जैसे अहम विभाग की जिम्मेदारी देने पर विचार-विमर्श कर रहा है, जबकि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद पर किसी मराठी नेता की ताजपोशी की अटकलें तेज हैं। खबरों की मानें तो बतौर रक्षा मंत्री फडणवीस पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की पहली पसंद है। हालांकि, फडणवीस ने इन अटकलों को फिलहाल खारिज कर दिया है। रिपोर्टों के अनुसार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में राज्य के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल का नाम सबसे आगे चल रहा है।

हो सकती है पदोन्नति

मीडिया रिपोर्टों में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि बीजेपी का आलाकमान रक्षा मंत्री पद के लिए जिन नामों पर विचार कर रहा है। उनमें फडणवीस का नाम भी है। साथ ही चर्चा यह भी है कि फडणवीस यदि केंद्र सरकार में मंत्री बनते हैं तो महाराष्ट्र में चंद्रकांत पाटिल उनकी जगह ले सकते हैं। पाटिल मराठा नेता हैं। रिपोर्टों में कहा गया है कि फडणवीस ने पिछले दो सालों में अच्छा काम किया है और इस दौरान उनका कद बड़ा भी हुआ है तो ऐसे में उन्हें पदोन्नति दी जा सकती है।

तांत्रिक के हाथ से जादुई चेन लेकर फंसी CM फड़णवीस की वाईफ

पुणे। महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़णवीस की पत्नी विवादों में फंस गई हैं। एक तांत्रिक ने जादू से लाई चेन को सीएम की पत्नी अमृता फड़णवीस को दिया और उन्होंने उसे ले लिया। यह घटना रविवार को पुणे में सूर्यदत्ता ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट्स की ओर से दिए जाने वाले राष्ट्रीय पुरस्कार समारोह में हुई। इस हार को लेने के बाद अंधविश्वास विरोधी कार्यकताओं ने अमृता की आलोचना की। मराठी चैनलों द्वारा लगातार प्रसारित किऐ जा रहे फुटेज में तांत्रिक गुरुवानंद स्वामी को अमृता को गले का एक हार देते हुए दिखाया जा रहा है जो कथित तौर पर हवा से प्रकट होता लगता है।

महाराष्ट्र अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति के अध्यक्ष अविनाश पाटिल ने कहा कि मुख्यमंत्री को अपनी पत्नी के कृत्य पर रुख स्पष्ट करना चाहिए। पाटिल ने कहा कि फडणवीस को घटना पर स्पष्टीकरण जारी करना चाहिए। अगर जरूरत लगी तो उन्हें माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर तांत्रिक वैज्ञानिक रूप से हमारे द्वारा तय नियंत्रित स्थितियों में अपना चमत्कार करके दिखा दें तो हम उन्हें इनाम के तौर पर 21 लाख रुपए देने को तैयार हैं।

यह है पूरा मामला

रविवार को पुणे के सूर्यादंत संस्थान के दीक्षांत समारोह में अमृता शामिल हुईं थीं। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में स्वामी गुरुवानंद महाराज को भी बुलाया गया था। इस दौरान अमृता को स्वामी गुरुवानंद के हाथों सम्मानित किया गया। अमृता जैसे ही बाबा का आशीर्वाद लेने गईं बाबा ने हवा में हाथ घुमाकर जादू से एक सोने की चेन निकाली और उन्हें गिफ्ट कर दी। अमृता फड़णवीस को दी गई इस चेन को बाबा ने चमत्कारी चेन बताया। आशीर्वाद लेने मंच पर पहुंचे कई और लोगों को बाबा ने हवा से अंगूठी निकाल कर दी।

अमृता ने दी ये सफाई

अमृता ने मंगलवार को कहा कि वह चमत्कारों में विश्वास नहीं रखतीं। उन्होंने बताया कि भाषण खत्म होने के बाद स्वामी जी ने स्नेह के नाते मुझे बुलाया था। मैं जब नमस्कार करने उनके पास गई तो मैंने उनके हाथ में चेन देखी जो उन्होंने मुझे दी। यह कोई जादू नहीं था क्योंकि जब मैं उनके पास गई थी तो चेन पहले से ही उनके हाथ में थी। उन्होंने कहा कि मैंने एक बुजुर्ग व्यक्ति के तौर पर उन्हें सम्मान देने के लिए अभिवादन किया। मैं इन्हीं संस्कारों के साथ पली-बढ़ी हूं और मैं इन्हें अमल में लाती रहूंगी। अमृता ने कहा कि गुरुवानंद स्वामी ने मुझे आशीर्वाद के तौर पर हार दिया।

ये कर रहे है कार्रवाई की मांग

राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने तांत्रिक के खिलाफ कानून के प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई की मांग की। राकांपा के ही नेता विद्या चव्हाण ने कहा कि अमृता को ऐसे समारोहों में शामिल होते समय अधिक सावधान रहना चाहिए क्योंकि वह मुख्यमंत्री की पत्नी हैं। मुख्यमंत्री राज्य के गृहमंत्री भी हैं। कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने आरोप लगाया कि भाजपा खुद तांत्रिकों में आस्था रखती है और यह घटना उसकी इसी सोच की ओर इशारा करती है।

दाभोलकर के बेटे ने की अमृता की तारीफ

दिवंगत नरेंद्र दाभोलकर के बेटे हामिद ने कहा कि तांत्रिक की वेबसाइट में दावा किया गया है कि उनके पास अलौकिक शक्तियां हैं जिनकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति उनके दावे को चुनौती देगी। हालांकि हामिद ने स्थिति स्पष्ट करने के लिए अमृता की प्रशंसा की।

कौन हैं स्वामी गुरुवानंद?

स्वामी गुरुवानंद का जन्म 12 जनवरी 1941 को दिल्ली में हुआ है। इन्होंने आईआईटी खडग़पुर से बी-टेक और ज्योतिषशास्त्र में पीएचडी भी किया है। बाबा का आंध्रप्रदेश के तिरुपति में आश्रम है। आश्रम की वेबसाइट पर स्वामी गुरुवानंद के पास दिव्या आध्यात्मिक शक्ति होने का दावा किया गया है। वे ज्योतिष की शिक्षा देने के लिए कई देशों की यात्रा कर चुके हैं।

कौन हैं अमृता फड़णवीस?

अमृता एक्सिस बैंक में एसोसिएट वाइस प्रेसिडेंट और नागपुर में बिजनेस ब्रांच के हेड के तौर पर कार्यरत हैं। वे नागपुर के मशहूर डॉ. चारु रानाडे और डॉ. शरद रानाडे की बेटी हैं। पहली मुलाकात के दौरान देवेंद्र और अमृता ने सिर्फ एक घंटे की बातचीत के बाद शादी का निर्णय लिया था। नागपुर में हुई दोनों की शादी में सैकड़ों झुग्गीवासियों को बुलाया गया था। अमृता एक शास्त्रीय गायिका भी हैं। उनकी देविजा नाम की एक बेटी है ।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???