Patrika Hindi News

डायरिया पीडि़तों की संख्या पहुंची 20

Updated: IST dairiya
गंभीर स्थिति में आधा दर्जन पीडि़तों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में चल रहा है, जबकि दो लोगों को बेहतर इलाज के लिए सिम्स रेफर किया गया है।

तखतपुर. समीपस्थ ग्राम निगारबंद में सोमवार से डायरिया का प्रकोप बढ़ गया। मंगलवार को डायरिया पीडि़तों की संख्या बढ़कर 20 पहुंच गई है। गंभीर स्थिति में आधा दर्जन पीडि़तों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में चल रहा है, जबकि दो लोगों को बेहतर इलाज के लिए सिम्स रेफर किया गया है। वहीं सरपंच की मांग पर बीएमओ ने प्रभावित गांव में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की एक टीम भेजी है। निगारबंद ग्राम के सरपंच ललित यादव ने बताया कि सोमवार को शाम को उन्हें सूचनी मिली कि ग्राम में डायरिया की शिकायत बढ़ गई है। गंभीर हालत में तीन लोगों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि ग्राम के मितानिनों से सम्पर्क कर स्थिति की जानकारी ली गई।

इसके बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचकर ेबीएमओ डॉ. निखिलेश गुप्ता को गांव में डायररिया फैलने के बारे में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य सुविधा की मांग की गई। इस पर बीएमओ डॉ. गुप्ता ने तत्काल स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की एक टीम निगारबंद भेजी। स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की टीम ने स्थानीय कार्यकर्ताओं से सम्पर्क कर डायरिया से प्रभावित लोगों के घर पहुंचकर उनके हालात का जायजा लेते हुए दवाइयां मुहैया कराया। वहीं एक मरीज सत्या बाई को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया, जहां उनका इलाज चल रहा है। वहीं इससे पूर्व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में राजकुमार यादव व हेमीन बाई व सागर कैवर्त का इलाज चल रहा था। इनमें से सागर कैवर्त को रात में ही सिम्स रेफर कर दिया गया। रात करीब 1 बजे अनिल कश्यप सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचा, जिसे सुबह सिम्स रेफर कर दिया गया। वहीं भरत रजक जो अपने पत्नी के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में ही रात गुजारा, उसे भी डायरिया के प्रकोप ने जकड़ ़लिया, जिसका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में चल रहा है। डॉक्टरों ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज चल रहे मरीज की स्थिति में सुधार है।

स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी निगारबंद में सुबह से ही अपना डेरा लगा दिए हैं, जो पुरे गांव में भ्रमण करते हुए क्लोरीन की दवाइयों के साथ लोगों को समझाइश दे रहे हैं। वहीं डायरिया से इफेक्टेड लोगो का पता साजी कर उनका उपचार कर रहे हैं। देर शाम तक स्वास्थ्य कर्ता गांव का सतत निरीक्षण करते रहे। इफेक्टेड लोग भी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से मिलकर दवाई ले रहे हैं। वहीं गांव की स्थिति सामान्य बताई जा रही है।

ये हंै प्रभावित

ग्राम निगारबंद में डायरिया का पता चलते ही सोमवार की शाम को ही स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने गांव में भ्रमण कर स्थिति की जानकारी ली। इस दौरान निर्मला, सुरेखा, रोहन, सत्या, संदीप, हेमीन, तरूण, सागर व राजकुमार डायरिया से पीडि़त मिले। इनमें से सत्या, हेमीन, राजकुमार व सागर का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मेें इलाज चल रहा है। वहीं मंगलवार सुबह से शाम तक अश्वनी, रिशेष , पूर्णिमा, बिंदु, अजय, अनिल व लक्ष्मीन आदि डायरिया से पीड़त हो गए। इनका गांव में हि इलाज चल रहा है। गांव में करीब 20 लोग डायरिया से पीडि़त बताए जा रहे हैं।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???