Patrika Hindi News

जिला जेल के बाहर अवैध ऑटो पार्किंग, सुरक्षा में लापरवाही

Updated: IST muzaffarpur jail
जेल व जिला प्रशासन की सुरक्षा में इतनी लापरवाही बड़े खतरे को बुलावा दे रही है।

मुजफ्फरपुर। पंजाब के नाभा में जेल ब्रेक की घटना के बाद भी जिला प्रशासन मुस्तैद नजर नहीं आ रहा है। जेल परिसर की सुरक्षा में दिलचस्पी नहीं दिखाई गई है। जेल परिसर के इर्द-गिर्द अतिक्रमणकारियों ने कब्जा जमा रखा है तो मेन गेट पर अवैध ऑटो पार्किंग की जा रही है। जेल व जिला प्रशासन की सुरक्षा में इतनी लापरवाही बड़े खतरे को बुलावा दे रही है।

बता दें कि जेल के मेन गेट से आप जेल परिसर में इंट्री करते हैं तो सुरक्षा के नाम पर महज दो पुलिस जवान ही दिखाई देते हैं। गेट पर मौजूद एक पुलिस जवान ने बताया कि सुबह में 7-12 कैदी से मुलाकात का समय होता है। उस समय जेल गेट पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट जाती है।

उस समय महज सुरक्षा के नाम पर 10 पुलिस जवानों की ही तैनाती रहती है। इसमें दो महिला पुलिसकर्मी भी रहती हैं। बता दें कि इस जेल में कई हार्डकोर नक्सली जैसे लाल बाबू सहनी उर्फ भास्कर, टुल्लू िसंह और मयंक समेत दर्जनों शातिर बंद हैं।

प्रशासन की ओर से जेल के मेनगेट पर ड्रैगेन कमरा लगाया गया है, जेल की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए एक बार फिर जिलाधिकारी से बात करेंगे।
सत्येंद्र सिंह, जेल अधीक्षक, केंद्रीय कारा

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???