Patrika Hindi News

> > > > Girl student sought euthanasia in Baghpat

दो युवकों की अश्‍लील हरकतों से परेशान छात्रा ने मांगी इच्‍छा मृत्यु

Updated: IST euthanasia
12वीं की छात्रा से दुष्‍कर्म के प्रयास के बाद जब दो युवकों ने पार की सारी हदें

बागपत. दो युवकों की अश्‍लील हरकत और दुष्‍कर्म की धमकी से तंग आ चुकी एक युवती ने राष्‍ट्रपति से इच्‍छामृत्यु की गुहार लगाई है। युवती का कहना है कि अब वह संप्रदाय विशेष के दो युवकों की हरकतों से आजिज आ चुकी है। उसकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसलिए अब उसकी जीने की इच्‍छा खत्‍म हो चुकी है। 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा का आरोप है कि उसने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है, लेकिन उसके बाद तो युवकों ने हद ही कर दी। वे उसे उठाकर ले गए जबरन शादी की धमकी देने लगे।

दरअसल मामला बिनौली थाना क्षेत्र के एक गांव का है। जहां 12वीं कक्षा की छात्रा संप्रदाय विशेष के दो युवकों की दुष्कर्म और जबरन शादी की धमकी से आजिज आ चुकी है। उसने अपने पिता के साथ कलक्ट्रेट में धरने दिया। साथ ही उसने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन भी दिया। पीड़िता ने बताया कि उसके पिता मजदूरी करके परिवार का पालन-पोषण करते हैं। वे तीन बहनें हैं। वह कक्षा 12 पढ़ती है।

उसने बताया कि कई माह पहले संप्रदाय विशेष के दो युवक उसका स्कूल आते-जाते समय पीछा करते थे। उसका रास्ता रोकते थे और अश्लील हरकतें करते थे। घरवालों को बताया तो जान से मारने की धमकी दी। माता-पिता ने जब उन युवकों के घर इस बात की शिकायत की तो वे दोनों उसके घर चिट्ठी डालने लगे और जान से मारने की धमकी भी दी। इतना ही नहीं एक दिन दोनों युवक उसके घर में घुस आए और दुष्कर्म की कोशिश की। उसके पिता ग्रामीणों को साथ लेकर थाने पर गए, लेकिन रिपोर्ट नहीं लिखी गई। उन्हें पीटा भी गया।

एसडीएम से शिकायत करने पर एफआईआर लिखी गई। अब आरोपी समझौता करने का दबाव डाल रहे हैं। समझौता न करने पर उठा ले जाने की धमकी दे रहे हैं। इसकी शिकायत उसने उच्च अधिकारियों से की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ऐसे में उसे मरने की अनुमति दी जाए। इस संबंध में डीएम हृदय शंकर तिवारी ने कहा कि मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे