Patrika Hindi News

> > > > Narayanpur : The first deposit of not, the villagers will be deprived of rations for November

पहले की राशि जमा नहीं, नवंबर माह के राशन से ग्रामीणों को होना पड़ेगा वंचित

Updated: IST Deprived of ration,
मेटानार सोसायटी का पूर्व संचालक 4 माह का राशन सहित 21 हजार रूपए की राशि बकाया कर फरार, वर्तमान संचालक ने देने से कर दिए हाथ खड़े

नारायणपुर. मेटानार पंचायत में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत ग्रामीणों को राशन प्रदान करने के लिए सोसायटी का संचालन किया जाता है।

लेकिन मेटानार सोसायटी के पूर्व संचालक द्वारा करीब 4 माह के राशन की राशि के साथ फरार है। इस राशि के जमा नहीं होने के कारण मेटानार सोसायटी के राशन का डिलिवरी आर्डर जारी नहीं हो पा रहा है। इसके कारण मेटानार ग्रामीणों को नवम्बर माह के राशन से वंचित होना पड़ेगा।

जानकारी के अनुसार अबूझमाड़ का मेटानार ग्राम पंचायत पहुंच विहिन क्षेत्र में होने के कारण बारिश के दिनों में ग्रामीणों को राशन के लिए दर-दर भटकना न पड़े।

इसको संज्ञान में लेकर खाद्य विभाग द्वारा मेटानार सोसायटी क संचालक को जून से लेकर सितम्बर तक कुल 4 माह के राशन की खेप मई माह में भेजी थी। लेकिन सोसायटी संचालक द्वारा 4 माह के राशन को ग्रामीणों को वितरीत करने की बजाय खुद डकार लिया था।

इसके साथ ही सोसायटी संचालक 4 माह के राशन की 21 हजार को जमा करने में कोई रूचि नहीं दिखाई। मेटानार के ग्रामीणों को 4 माह का राशन नहंी मिलने का मामला उजागर होने के बाद प्रशासन ने आनन-फानन में मेटानार के ग्रामीणों को राशन प्रदान करने के लिए घमंडी ग्राम पंचायत सोसायटी संचालक को मेटानार सोसायटी का जिम्मा सौंपा था।

इसके बाद घमंडी सोसायटी के संचालक ने मेटानार सोसायटी का संचालन करते हुए नवम्बर माह का राशन मेटानार के ग्रामीणों को वितरीत किया था। इसके बाद दिसमबर माह के राशन ग्रामीणों को प्रदान करने के लिए नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा आनलाईन डिलिवरी आर्डर निकालने के लिए प्रयास किया जा रहा है।

वर्तमान संचालक ने देने से कर दिए हाथ खड़े

मेटानार सोसायटी का पूर्व संचालक 4 माह का राशन सहित 21 हजार रूपए की राशि बकाया कर फरार बना हुआ है। लेकिन मेटानार सोसायटी का मामला पत्रिका द्वारा उजागर करने के बाद प्रशासन ने हरकत में आते हुए घमंडी सोसायटी के संचालक मेटानार सोसायटी का जिम्मा सौंपा था।

इसके बाद घमंडी के संचालक ने नवम्बर माह के राशन को ग्रामीणों को वितरीत किया था। इसके बाद दिसम्बर माह का राशन लेने के लिए नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा डिलिवरी आर्डर निकाला जा रहा है। लेकिन 4 माह की राशि बकाया होने के कारण डिलिवरी आर्डर जारी नहीं हो पा रहा है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???