Patrika Hindi News

माल की तुलाई नहीं होने से भड़क गए किसान

Updated: IST former
एसडीएम सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा,शीघ्र परिवहन की बात पर शांत हुए किसान

नरसिंहपुर। कृषि उपज मंडी में सोमवार को किसान अपनी माल की तुलाई नहीं होने पर भड़क गए और नारेबाजी करने लगे। मंडी में किसानों द्वारा नारेबाजी आदि की सूचना पर एसडीएम सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा और मंडी प्रबंधन के साथ किसानों को समझाइश देने लगा। हंगामा कर रहे किसानों ने कहा कि तीन दिन से मंडी में माल रखा हुआ है लेकिन उसकी तुलाई नहीं की जा रही है। ऊपर से कहा जा रहा है कि दो दिन तक मॉल की तुलाई नहीं होगी। व्यापारियों की माल की तुलाई की जा रही है। किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है। बाद में मंडी सचिव ने किसानों को माल तुलाई के संबंध में आश्वस्त किया। उन्होंने कहा कि सोसायटियों द्वारा माल का परिवहन नहीं किए जाने से यह दिक्कत आ रही है। शीघ्र ही यहां से माल का परिवहन किया जाएगा। नवलगांव निवासी किसान संदीप पटैल ने कहा कि तीन दिन पहले मूंग और उड़द मंडी में लेकर आए लेकिन आज तक तुलाई नहीं हो सकी है। अभी कहा जा रहा है कि दो दिन तक तुलाई नहीं होगी। मुंगवानी निवासी किसान राजेश साहू ने कहा कि माल को मंडी में रखकर दो दिन से परेशान हो रहे हैं। तुलाई नहीं हो रही है। इससे किसान परेशान हैं। किसान नीलेश पटैल आदि ने भी यही बात कही। कई किसानों ने व्यापारियों के माल तौलने की बात कही। किसानों ने कहा कि टोकन दिया जाना चाहिए,उस टोकन के अनुसार किसानों को बुलाया जाना चाहिए ताकि माल तुलाई के लिए किसान परेशान नहीं हों। उन्होंने कहा कि मंडी में रूकने के लिए उचित व्यवस्था तक नहीं है। शौचालय की हालत यह है कि उसमें अंदर प्रवेश करने की हिम्मत नहीं हो रही है। गंदगी से शौचालय भरा हुआ है। इस हालत में मंडी में किसान कैसे रूकेंगे। किसान अपनी माल लेकर पहुंचते हैं तो कहा जाता है कि अच्छा माल नहीं है। इस पर किसान छन्ना लगाकर माल तुलवाने की बात कहते हैं लेकिन इस पर भी तैयार नहीं हुआ जा रहा है। कई किसानों ने कहा कि हम लोग अपने मॉल को दो से तीन बार तक छन्ना लगवाने को कह रहे हैं लेकिन इसके बाद उसे अच्छा नहीं कहकर तुलाई नहीं की जा रही है। कहा जा रहा है कि पुराना उड़द नहीं खरीदेंगे। भारतीय किसान यूनियन के चंद्रप्रकाश अग्रवाल ने कहा कि पिछले साल की तरह स्थिति है। व्यापारियों की माल तोल रहे हैं। किसानों की माल की तुलाई नहीं की जा रही है। स्थिति नहीं सुधरी तो किसान यूनियन आंदोलन करेगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???