Patrika Hindi News

> > > > Daughter caved to the insistence of family members

बेटी की जिद के आगे झुकना पड़ा परिजनों को

Updated: IST Neemuch News
बीए प्रथम वर्ष की छात्रा निशा रंगरेज नेअपने घर पहुंचकर माता शहनाज व पिता अयूब रंगरेज से अपने घर में शौचालय बनाने की जिद की।माता-पिता से कहा कि जब तक वे शौचालय बनाने का काम शुरू नहीं करेंगे, वह खाना भी नहीं खाएगी।

नीमच। स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिले में शौचालय निर्माण के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। स्कूल, कॉलेज के बच्चे इन दिनों जिद करो, शौचालय बनाओ अभियान में बढ़चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं।

सीताराम जाजू कन्या महाविद्यालय की बीए प्रथम वर्ष की छात्रा निशा रंगरेज ने भी कॉलेज के प्राचार्य व प्राध्यापकों की समझाइश पर अपने घर पहुंचकर माता शहनाज व पिता अयूब रंगरेज से अपने घर में शौचालय बनाने की जिद की। निशा ने माता-पिता से कहा कि जब तक वे शौचालय बनाने का काम शुरू नहीं करेंगे, वह खाना भी नहीं खाएगी। अपनी लाडली बेटी की इस अनुकरणीय जिद के आगे माता-पिता मजबूर हो गए और उन्होने पुरानी कचहरी के मालियों की गली वार्ड नम्बर 3 में स्थित अपने घर में शौचालय निर्माण के लिए तत्काल गड्ढा खुदवाना शुरू कर दिया। जब टैंक के लिए पूरा गड्ढा तैयार हो गया, तब जाकर छात्रा निशा ने खाना खाया। अब तो पक्का शौचालय बनवाने के लिए उन्होने निर्माण सामग्री मंगवा ली है। निशा की इस प्रेरक जिद की खुलकर प्रशंसा हो रही है।

बच्चे बैठ गए थे धरने पर....

जिले में शौचालय निर्माण की मुहिम को बढ़ावा देने में बच्चों की भूमिका को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। कलेक्टर रजनीश श्रीवास्तव ने माह के आरंभ में निर्देश जारी किए थे कि प्रत्येक गांव में स्वच्छता जागरुकता रैली में बच्चों को जरूर शामिल किया जाए, बच्चों को इतना समझाया जाए कि जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं उन माता पिता के सामने वे जिद करें। यह तरकीब कारगर साबित हो रही है। पिछले दिनों कनावटी में प्राथमिक और माध्यमिक शाला के बच्चों ने शौचालय विहिन चिन्हित घर के सामने बच्चों ने रैली रोक दी। घर के सामने ही बच्चे धरना देकर बैठ गए। आखिरकार जिला पंचायत सीईओ जमुना भिड़े, जनपद सीईओ अरविंद डामोर ने शौचालय विहिन घरों में रहने वाले परिवारों के मुखियाओं से चर्चा की उन्हें समझाया। बच्चों ने जो ठाना था वह करके दिखाया, इन परिवारों ने बच्चों के सामने ही शौचालय निर्माण के लिए गड्ढे खोदना शुरू कर दिए तब बच्चों की रैली आगे बढ़ी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???