Patrika Hindi News

श्रद्धा पर चढ़ा भक्ति का रंग, जयकारों से गूंजा गगन

Updated: IST
-कहीं अभिषेक तो कहीं कावड़ यात्रियों का निकला जत्था-दिनभर शहर सहित अंचलों में रही दूसरे सावन सोमवार की धूम

नीमच/रतलाम। सावन माह के दूसरे सोमवार को शहर सहित अचंलों में श्रद्धालुओं पर भक्ति का रंग चढ़ा। श्रद्धालु सुबह से शिव मंदिरों में पहुंचकर जलाभिषेक कर बिल्व पत्र चढ़ाते नजर आए। कहीं भजन कीर्तन तो कहीं शिव महापुराण तो कहीं कावडिय़ों द्वारा शिव शंकर का अभिषेक किया गया। शाम होते ही शहर के सभी शिवलय रोशनी से जगमगा उठे, तो श्रद्धालुओं द्वारा महाआरती में लगाए जयकारों से गगन गूंज उठा।

पशुपतिनाथ का अभिषेक कर लाए शिवना का जल

मंशापूर्ण दरबार भक्त मंडल जूना सत्यानारायण मंदिर समिति के करीब 200 श्रद्धालु रविवार सुबह मंदसौर स्थित पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचे। जहां उन्होंने शिवना नदी के जल से पहले पशुपतिनाथ का अभिषेक किया। जिसके बाद पूजा अर्चना कर करीब 121 कावडिय़ों द्वारा शिवना का जल लेकर पैदल नीमच की ओर प्रस्थान किया। रास्ते भर भोले शंकर के जयकारे लगाते हुए कावडिय़ों सहित श्रद्धालु रात को हिंगोरिया बालाजी पर रूके। जहां से सोमवार सुबह झूमते गाते जयकारे लगाते हुए उत्साह के साथ शहर की ओर बढ़े, शहरभर में कावड़ यात्रा निकालने के बाद श्रद्धालुओं ने मंशापूर्ण दरबार पहुंचकर मंशापूर्ण महादेव का शिवना के पवित्र जल से अभिषेक किया।

सांवरिया सेठ मंदिर पर शिव महापुराण

जहां सावन माह में विभिन्न स्थानों पर अलग अलग आयोजन हो रहे हैं। वहीं नीमच सिटी स्थित सांवरिया सेठ मंदिर पर पंडित राजेंद्र पुरोहित के मुखारबिंद से शिव महापुराण कथा का वाचन किया जा रहा है। जहां प्रतिदिन दोपहर 2 से 5 बजे तक श्रद्धालु पहुंचकर शिव भक्ति के इस माह में शिव शंकर की कथा श्रवण कर रहे हैं। सोमवार को पंडित पुरोहित ने कथा में सती चरित्र सुनाया, उन्होंने बताया कि इस अवसर पर राजा दक्ष की कन्या सती का विवाह भगवान शिव के साथ सम्पन्न किया गया।

गूंजे ढोल नगाड़े, महाआरती में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

शाम होते ही शिव मंदिर आकर्षक विद्युत साज सज्जा से जगमगा उठे। शहर के भूतेश्वर महादेव मंदिर, भाग्येश्वर महादेव मंदिर, किलेश्वर महादेव मंदिर सहित अन्य शिव मंदिरों में ढोल नगाड़ों के साथ आरती की गई। शहर में सबसे अधिक श्रद्धालु किलेश्वर महादेव मंदिर पर नजर आए। जहां पर आकर्षक झांकियां श्रद्धालुओं को लुभा रही थी। वहीं रोशनी के साथ चल रहे फव्वारें से उड़ता पानी भी लोगों को सुखद एहसास दे रहा था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???