Patrika Hindi News

> > > > All plans will be created on the basis of the authorization mapping 3D

इस तकनीक से योजना की शुरुआत में ही दूर हो जाएगी समस्या

Updated: IST 3D demo pic
प्राधिरकण की सभी योजानाए थ्री डी मैपिंग के आधार पर बनाई जाएगी

नोएडा। 2017 से प्राधिरकण की सभी योजानाए थ्री डी मैपिंग के आधार पर बनाई जाएगी। वहीं .3 रिज्यूलेशन की तकनीक का प्रयोग किया जाएगा। जिससे प्रोजेक्ट के बीच में आने वाली सभी बाधाओं को पहले ही दूर किया जा सकेगा। दरअसल, तकनीक के आने के बाद प्राधिकरण जो भी योजाना बनाएगा। उसका थ्री डी आलेख तैयार कर किया जाएगा।

आलेख के दर्शाते ही मैपिंग के जरिए यह पता चल सकेगा कि जिस स्थान पर प्रोजेक्ट बनाया जाना है। वहां की वर्तमान स्थिति क्या है? प्रदेश में पहला ऐसा शहर है जिसकी थ्री मैपिंग की जा रही है। इसके लिए हैदराबाद की एक कंपनी को सलाहकार के रूप में नियुक्त किया है। एक माह के अंदर यह अपनी रिपोर्ट प्राधिकरण को सौंपेगी। जिसके बाद थ्री डी मैपिंग का काम .3 रिज्यूलेशन पर शुरू होगा।

पहले ही मिल जाएगी अतिक्रमण संबंधित जानकारी

अक्सर देखा गया है कि प्राधिकरण योजना तो बनाता है लेकिन अतिक्रमण व अन्य कारणों से योजना अपने तय समय में पूरी नहीं हो पाती। जिससे प्राधिकरण को अतिरिक्त बजट खर्च करना पड़ता है। इस तकनीक के माध्यम से प्लानिंग स्टेज में ही पता चल सकेगा कि वहां अतिक्रमण है या नहीं। यदि है तो कितने क्षेत्र में फैला है। उसे प्राथमिकता के तौर पर हटाया जा सकेगा। या कोई अन्य बाधा इलेक्ट्रॉनिक व पाइप लाइन जिसे योजना से पहले ही शिफ्ट किया जा सकेगा।

कैसे करेगा काम

उदाहरण के तौर पर यादि सेक्टर-11 में मल्टीलेवल पार्किंग का निर्माण करना है। पार्किंग की क्षमता के व बिल्डिंग की ऊंचाई, फ्लोर के हिसाब से एक थ्री डी आलेख तैयार किया जाएगा। इस आलेख को सेक्टर-11 के थ्री डी मैप में उस स्थान पर सेट किया जाएगा जहां पार्किंग प्रस्तावित है। विकल्पों के आधार पर पार्किंग निर्माण में आने वाली सभी बाधाओं को मैप पहले ही बता देगा।

रडार बेस पर होगी थ्री मैपिंग

शहर में बनाए जाने वाला थ्री डी मैप रडार बेस पर बनाया जाएगा। अधिकारियों के मुताबिक एक वैन रडार सिस्टम पर आधारित होगी। मसलन यदि हमें एमपी-01 व 02 की थ्री मैपिंग करनी है तो रडार वैन उन दोनों सडक़ो पर चलेगी। एक निश्चित दूरी तक की सभी चीजे रडार के माध्यम से थ्री डी में बदलती जाएंगी। जिसकी पिक्सल कंप्यूटर में अपलोड होते जाएंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे