Patrika Hindi News

> > > > BJP will Attack on SP with issue of migration of Hindus from Kairana in UP elecation

यूपी चुनाव में कैराना से हिंदुओं के पलायन के मुद्दे पर सपा को घेरेगी भाजपा

Updated: IST kairana
राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के बाद भाजपा कर रही इस रणनीति पर काम

नई दिल्ली/नोएडा. जब भाजपा सांसद हुकुम देव सिंह ने कैराना से भारी संख्या में हिंदुओं के पलायन का मुद्दा उठाया था तब ज्यादातर लोगों का मानना था कि यह राजनीतिक पैंतरेबाजी है। कहा गया कि भाजपा इसे वोटों के सांप्रदायिक आधार पर विभाजन के लिए हवा दे रही है, लेकिन जब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने कैराना से हिंदुओं के पलायन की बात को सही मान लिया है तो भाजपा अब इसे यूपी चुनाव में बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाने की सोच रही है। भाजपा का कहना है कि अब उन लोगों को सामने आना चाहिए और इस मामले पर अपनी सफाई पेश करनी चाहिए कि क्यों उन्होंने एक सच्ची घटना को बिना जांच किये झूठ बताने का प्रयास किया था। यहां बता दें कि यूपी सरकार ने इसे कानून-व्यवस्था का पुराना मसला बताकर खारिज करने का प्रयास किया था।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकान्त शर्मा ने कहा कि इससे यह बात समझी जानी चाहिए कि किस तरह एक सच्ची घटना को भी वोट की राजनीति के कारण झूठा बताने का प्रयास किया गया। अगर यह मान भी लें कि यह एक कानून-व्यवस्था का मामला है तो क्या तब इसके लिए अखिलेश सरकार जिम्मेदार नहीं है।

क्या कहा था भाजपा ने

बीजेपी सांसद हुकुम देव सिंह ने मीडिया के सामने कहा था कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुस्लिम बहुल इलाके कैराना से हिंदुओं का भारी संख्या में पलायन हो रहा है। हिन्दू परिवार वहां पर अपनी जान-माल की सुरक्षा कर पाने में असमर्थ हैं। उनके परिवार की महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ रही हैं। हिन्दू परिवारों को अपनी संपत्तियों को औने-पौने दाम पर बेचने के लिए और वहां से भाग जाने के लिए धमकी दी जा रही है। भाजपा सांसद ने ऐसे हिन्दू परिवारों की एक लम्बी लिस्ट भी जारी की जो अपने इज़्ज़त और जान के डर से कैराना छोड़ चुके हैं।

क्या हुआ मुद्दा उठने के बाद

भाजपा द्वारा यह मुद्दा उठाने के बाद मीडिया में खूब शोर हुआ। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने इस मामले पर यूपी सरकार से भी जवाब तलब किया था। हलाकि यूपी सरकार ने इस तरह की घटना से पूरी तरह से इनकार नहीं किया, लेकिन कहा कि यह मसला सांप्रदायिक नहीं, बल्कि कानून-व्यवस्था से जुड़ा है। कहा गया कि भाजपा इस मुद्दे को उठाकर वोटों का सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करना चाहती है। विस्थापित लोगों की लिस्ट पर भी सवाल उठाया गया था।

अब क्या करेगी भाजपा

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग द्वारा कैराना प्रकरण को सही पाये जाने के बाद भाजपा इसे बड़ा मुद्दा बनाने की बात कर रही है। पार्टी का कहना है कि यह एक त्रासदी की बात है कि एक हिन्दू बहुल राष्ट्र में हिंदुओं का ही पलायन हो रहा है और यूपी सरकार द्वारा सच को झुठलाया जा रहा है। भाजपा कह रही है कि कैराना को दूसरा कश्मीर बनने से रोकना होगा।

जानकारी के मुताबिक स्थानीय सांसद अन्य जन प्रतिनिधियों के साथ मिलकर इस मुद्दे पर स्थानीय आईजी से मुलाकात कर मुद्दे को उठा चुके हैं। पार्टी इसे बड़ा चुनावी मुद्दा भी बनाने की रणनीति पर काम कर रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे