Breaking News
कानपुर में नरेन्द्र मोदी की रैली के लिए लगाया गया मंच तेज बारिश और तूफान के कारण ढहा दक्षिणी सूडान में बंदूकधारी ने 20 लोगों की गोली मार कर हत्या की, 70 घायल, घायलों में 2 भारतीय शांति सैनिक भी शामिल चुनाव आयोग ने भाजपा नेता अमित शाह पर से प्रतिबंध हटाया, कर सकेंगे चुनाव प्रचार जम्मू-कश्मीर में पीडीपी समर्थक सरपंच की गोली मारकर हत्या जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में स्टंट करने के दौरान तीन छात्रों की मौत, मोटरसाइकिल पर कर रहे थे स्टंट

दुनियाभर में इंटरनेट के लिए फेसबुक, गूगल में जंग

Now Facebook ready to provide cheap internet to all world

print 
Now Facebook ready to provide cheap internet to all world
8/22/2013 5:32:05 PM
Now Facebook ready to provide cheap internet to all world
Now Facebook ready to provide cheap internet to all world

मंुबई। गूगल के गूगल प्लस और फेसबुक में आगे आने की जंग अभी थमी भी नहीं है कि दोनों दिग्गजों में फिर से घमासान की बिसात बिछ गई है। इस बार गूगल, फेसबुक दुनिया की दो-तिहाई आबादी तक सस्ता और तेज इंटरनेट उपलब्ध करवाने के लिए आमने-सामने होंगे। जहां गूगल इसको लेकर बहुत आगे बढ़ चुका है, वहीं फेसबुक ने महज इसकी योजना ही बनाई है।

दोनों ही प्रोजेक्टस का उद्देश्य दुनिया के हर हिस्से में इंटरनेट सुविधा पहुंचाना है। गूगल ने जहां इसके लिए स्वयं के डिवाईसेज का इस्तेमाल किया है, वहीं फेसबुक इस योजना के लिए स्मार्टफोन्स की मदद लेगा। फेसबुक ने योजना में नोकिया, सैमसंग सहित 6 अन्य कम्पनियों से टाई-अप किया है।

फेसबुक की तैयारी
फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने "इंटरनेट डॉट आर्ग" शुरू करने की घोषणा की है। इस वेबसाइट का उद्देश्य भी दुनिया के 5 अरब लोगों तक सस्ती इंटरनेट सेवा उपलब्ध करवाना होगा। जुकरबर्ग ने इसके लिए नोकिया, सैमसंग, एरिक्सन, ओपेरा, क्वालकम और मीडियाटेक जैसी आईटी और फोन निर्माता कम्पनियों से अनुबंध किया है।

जुकरबर्ग की इस बड़ी योजना का आधार होंगे स्मार्टफोन, जिसके जरिए इंटरनेट सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। मतलब ये कि ना कोई तार, ना कोई अतिरिक्त डिवाईस। केवल स्मार्टफोन से ही इंटरनेट का यूज किया जा सकेगा। इस योजना की भागीदार मोबाइल निर्माता कम्पनियों का काम होगा, सस्ते स्मार्टफोन्स बनाना। जबकि अन्य आईटी कम्पनियां कम लागत के उच्च गुणवत्ता वाले कम्पोनेंट विकसित करेंगीं।

गूगल की योजना
वैश्विक इंटरनेट बाजार पर एकाधिकार के बाद गूगल की योजना इंटरनेट सर्विस उपलब्ध करवाने में किंग बनने की है। इसके लिए गूगल ने दुनिया की दो-तिहाई आबादी को टारगेट किया है। "प्रोजेक्ट लून" नाम से चल रहे गूगल की इस योजना का आधार है हवा में तैरते बैलून। गूगल के अनुसार बेहद हाई क्वालिटी मैटेरियल से बने ये बैलून समताप मण्डल में पृथ्वी के चारो ओर हवा के प्रवाह से तैरेंगे। हजारों की संख्या में ऎसे बैलून एक दूसरे को कनेक्ट रखेंगे। गूगल की इस इंटरनेट सेवा से जुड़ने के लिए एक विशेष इंटरनेट एंटीना घर पर लगाना होगा। ये एंटीना इन बैलून्स से कनेक्टिवीटी रिसीव करेंगे और यूजर इंटरनेट से जुड़ जाएगा।

जून 2013 में इस प्रोजेक्ट का परीक्षण न्यूजीलैण्ड में किया जा चुका है। क्राईस्टचर्च और केंटबरी के चुनिंदा लोगों ने बैलून से इंटरनेट कनेक्ट कर इंटरनेट का मजा लिया।


    Comments
    Write to the Editor
    Type in Hindi (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi)
    Terms & Conditions
    Comments are moderated. Comments that include profanity or personal attacks or other inappropriate comments or material will be removed from the site. Additionally, entries that are unsigned or contain "signatures" by someone other than the actual author will be removed. Finally, we will take steps to block users who violate any of our posting standards, terms of use or privacy policies or any other policies governing this site.
    Name:      
    Location:    
    E-mail:      
       
           
        
     
     
    Top