Patrika Hindi News

पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान सरदार सिंह बनेंगे खेल रत्न!

Updated: IST Sardar Singh
हॉकी इंडिया (एचआई) ने राजीव गांधी खेल रत्न के लिए अपने इस स्टार मिडफील्डर का नाम खेल मंत्रालय को भेजा है।

नई दिल्ली। देश को हॉकी में कई बड़ी सफलताएं दिला चुके और अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के शीर्ष-5 खिलाडि़यों में लगातार शुमार रहे पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान सरदार सिंह को इस साल देश का सर्वोच्च खेल सम्मान मिल सकता है। हॉकी इंडिया (एचआई) ने राजीव गांधी खेल रत्न के लिए अपने इस स्टार मिडफील्डर का नाम खेल मंत्रालय को भेजा है।

हॉकी इंडिया ने प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन पुरस्कार , ध्यानचंद पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कार के बीच अपनी ओर से नामित खिलाडिय़ों की घोषणा की। सरदार का नाम राजीव गांधी खेल रत्न के लिए भेजा गया है, जबकि एसवी सुनील, दीपिका और धर्मवीर ङ्क्षसह के नाम की सिफारिश अर्जुन पुरस्कार के लिए की गई है। डॉ. आरपी सिंह और सुमरई टेटे का नाम ध्यानंचद अवॉर्ड तथा कोच संदीप सांगवान और रोमेश पठानिया का नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए भेजा गया है।

भारत ने 2014 में सरदार की कप्तानी में एशियाई खेलों में पाकिस्तान को हराकर स्वर्ण पदक जीता था और रियो ओलंपिक के लिए सीधे क्वालीफाई किया था। सरदार ने भारत के लिए अपना पदार्पण जूनियर टीम में 2003-04 में भारत के पोलैंड दौरे के दौरान किया था। सरदार ने सीनियर टीम में अपना पदार्पण 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ किया।

दुनिया के बेहतरीन मिडफील्डरों में शुमार सरदार को 2010 और 2011 में एफआईएच की 18 सदस्यीय ऑल स्टार टीम में जगह मिली थी। सरदार ने 2008 में भी सुल्तान अजलान शाह में जब भारत का नेतृत्व किया था, तब वह देश के सबसे युवा कप्तान बने थे। सरदार को 2012 में अर्जुन अवॉर्ड और 2015 में पद्मश्री से सम्मानित किया जा चुका है।

पूर्व हॉकी खिलाड़ी डॉ. आरपी सिंह ने 1986 और 1990 के विश्वकप के दौरान भारत का प्रतिनिधित्व किया था। सुमरई टेटे पूर्व भारतीय महिला कप्तान और कोच हैं। वह 2002 में मैनचेस्टर राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम की सदस्य थीं। एसवी सुनील सीनियर टीम के महत्वपूर्ण सदस्य हैं और दुनिया के सबसे तेज फॉरवर्डां में एक माना जाता है। सुनील को 2016 में एशियन प्लेयर आफ द ईयर का सम्मान मिला था। दीपिका राष्ट्रमंडल खेलों, विश्वकप और रियो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।

धर्मवीर एशियाई खेलों की स्वर्ण विजेता और राष्ट्रमंडल खेलों के रजत विजेता टीम के सदस्य थे। संदीप सांगवान और रोमेश पठानिया देश के बेहतरीन कोचों में एक माने जाते हैं। हॉकी इंडिया के महासचिव मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा, हमें इन खिलाडिय़ों के नामों की सिफारिश करते हुए बेहद खुशी महसूस हो रही है, जिन्होंने भारतीय हॉकी की अभूतपूर्व सेवा की है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???