Patrika Hindi News

श्रीजेश देश में गोलकीपरों के लिए मिसाल हैं: सूरज

Updated: IST PR Sreejesh
मुंबई के युवा प्रतिभाशाली गोलकीपर सूरज करकेरा ने भारतीय सीनियर हॉकी टीम के गोलकीपर के लिए कहा।

बेंगलूरु। मुंबई के युवा प्रतिभाशाली गोलकीपर सूरज करकेरा ने भारतीय सीनियर हॉकी टीम के गोलकीपर पीआर श्रीजेश को युवा गोलकीपरों के लिये एक मिसाल बताते हुए कहा है कि वह उनसे बहुत कुछ सीखना चाहते हैं और उन्हीं की तरह बनना चाहते हैं। यहां संभावितों के लिए आयोजित अभ्यास शिविर में जगह पाने वाले 21 वर्षीय गोलकीपर सूरज ने कहा कि वह इस बात को लेकर बेहद रोमांचित हैं कि उन्हें शिविर में श्रीजेश के साथ खेलने का मौका मिला है।

उन्होंने कहा, मैं भारतीय दिग्गज गोलकीपर और कप्तान श्रीजेश के साथ यहां अभ्यास शिविर साझा कर रहा हूं और इस बात को लेकर मैं खासा रोमांचित हूं। मेरा पूरा लक्ष्य श्रीजेश से खेल की बारीकियां सीखते हुए मलेशिया में होने वाले 26वें सुल्तान अजलान शाह कप के लिए सीनियर टीम में जगह बनाना है। उन्होंने कहा, भारतीय टीम में जगह बनाना हालांकि अभी दूर की बात है। इससे पहले मेरा लक्ष्य अपने खेल के बुनियादी स्तर को सुधारना है और सीनियर स्तर पर खेलने के लिए जरूरी आत्मविश्वास हासिल करना है। सूरज ने जूनियर स्तर पर अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत छह राष्ट्रों के वाल्वो इंटरनेशनल टूर्नामेंट से 2015 में की थी।

सूरज राष्ट्रीय शिविर से 14 मार्च को जुड़े थे। उनके अलावा शिविर में अन्य गोलकीपरों में श्रीजेश के साथ विकास दाहिया और आकाश चिकते हैं। अपने जूनियर पदार्पण के बाद से ही सूरज लगातार जूनियार टीम का हिस्सा रहे हैं। हालांकि गत वर्ष लखनऊ में आयोजित हॉकी जूनियर विश्वकप में उन्हें शामिल नहीं किया गया था।

हॉकी इंडिया लीग (एचआईएल) में उत्तर प्रदेश विजाड्र्स की तरफ से खेलने वाले सूरज ने कहा, जूनियर विश्वकप में मौका न मिलना निश्चित रूप से मेरे लिये निराशाजनक था लेकिन मुझे अपनी क्षमता पर पूरा भरोसा था। मैं इस बात से खासा उत्साहित हूं कि कोच रोलेंट ओल्टमैंस ने मुझे राष्ट्रीय शिविर के लिए चुना। शिविर में सीनियर खिलाडिय़ों के साथ मेरे लिए सीखने का एक शानदार मौका है। भारतीय कप्तान श्रीजेश की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, मैं श्रीजेश के खेल को बारीकी से देखता हूं। वह देश के महान गोलकीपरों में से एक हैं। मेरे जैसे युवा खिलाड़ी उनसे काफी कुछ सीख सकते हैं। श्रीजेश जिस तरह से जूनियर खिलाडिय़ों का हौसला बढ़ाते हैं, वह उनके व्यक्तित्व को दर्शाता है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???