Patrika Hindi News

तो यह शख्य खिलाडिय़ों को तोफे में देता है बीएमडब्ल्यू

Updated: IST Dipa Karmakar
आपको बता दें कि चामुुंडेश्वर पिछले कई सालों से खेलों में शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को तोफे में कार भेंट करते हैं

नई दिल्ली। रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करने वाली दीपा कर्माकर, पीवी सिंधु और साक्षी मलिक को स्वदेश लौटने पर बीएमडब्ल्यू कारें तोफें में दी गई थीं। हालांकि, त्रिपुरा राज्य की रहने वाली दीपा ने खराब सड़कों के चलते अपनी कार वापस करने की बात कही थी। उनका कहना था कि इतनी महंगी कार संभाल पाना मुश्किल हो रहा है। इसलिए वह इसे लौटाना चाहती हैं। उनके परिवारवालों ने भी यही बात कही थी।

दीपा के पीड़ा जाहिर करने के अगले दिन ही उनके खाते में 25 लाख रुपए ट्रांसफर हो गए थे। यह रक्म ट्रांसफर करने वाला और कोई नहीं बल्कि वी चामुंडेश्वरनाथ थे। चामुंडेश्वरनाथ ही वह शख्स हैं जिन्होंने ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करने पर दीपा को बीएमडब्ल्यू कार तोफे में दी थी।

उल्लेखनीय है कि चामुंदेश्वर पूर्व क्रिकेटर हैं जो आंध्र प्रदेश से खेल चुके हैं। उन्होंने 1991-92 में संन्यास ले लिया था। 2009 टी-20 विश्वकप में उन्हें टीम इंडिया का मैनेजर नियुक्त किया गया था। उन्हें क्रिकेट खिलाडिय़ों से दोस्ती करने के लिए भी जाना जाता है।

आपको बता दें कि चामुुंडेश्वर पिछले कई सालों से खेलों में शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को तोफे में कार भेंट करते हैं। 2001 में जब गोपीचंद ने ऑल इंग्लैंड खिताब जीता था तो उन्हें भी चामुंडेश्वर ने कार गिफ्ट की थी। सानिया मिर्जा द्वारा बिंबलडन गल्र्स डबल खिताब जीतने पर भी उन्हें कार गिफ्ट की गई थी। 2012 के ओलंपिक में कांश्य पदक जीतने पर चामुंडेश्वर ने सायना नेहवाल को बीएमडब्ल्यू कार तोफे में दी थी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???