Patrika Hindi News

जिम्नास्टिक में 13 स्वर्ण जीतने वाली इस खिलाड़ी ने "बचपन" में ही ले लिया संन्यास

Updated: IST Yana Kudryavtseva, 13-time gymnastics world champi
कुदर्यावत्सेवा ने 2013 से लेकर 2015 तक के अपने करियर में 13 विश्व चैंपियनशिप(स्वर्ण पदक) जीती। लेकिन इसके बाद इन सभी गोल्डमेडल से बढ़कर रियो ओलम्पिक में स्वर्ण जीतने का उनका सपना पैर में चोट के कारण बाधित हो गया

रूस: रूस की rhythmic gymnast जिम्नास्ट याना कुदर्यावत्सेवा (Yana Kudryavtseva) ने 19 साल की उम्र में ही अपने इस छोटे से लेकिन चकाचौंध भरे करियर से संन्यास ले लिया।

कुदर्यावत्सेवा ने 2013 से लेकर 2015 तक के अपने करियर में 13 विश्व चैंपियनशिप(स्वर्ण पदक) जीती। लेकिन इसके बाद इन सभी गोल्डमेडल से बढ़कर रियो ओलम्पिक में स्वर्ण जीतने का उनका सपना पैर में चोट के कारण बाधित हो गया और उन्हें सिर्फ सिल्वर मेडल तक ही सीमित रहना पड़ा।

अंतरराष्ट्रीय जिमनास्टिक्स फेडरेशन ने उनके संन्यास पर कहा,' कई चोटों के कारण संघर्षमय रहा एक करियर खत्म हो गया, rhythmic इतिहास में यह एक शानदार करियर रहा। रसिया के लिए साल 2000 के बाद कुदर्यावत्सेवा ही विश्वस्तरीय खिलाडी थी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???