Patrika Hindi News

"Income tax की छापेमारी के बाद बौखला गए हैं लालू"

Updated: IST Bihar Politics
लालू यादव के ठिकानों पर आयकर छापेमारी से बौखलाए राजद कार्यकर्ताओं ने पुलिस की मौजूदगी में शहर के प्रतिबंधित क्षेत्र वीरचंद पटेल पथ स्थित भाजपा कार्यालय पर हमला कर दिया...

पटना। लालू यादव के ठिकानों पर आयकर छापेमारी से बौखलाए राजद कार्यकर्ताओं ने पुलिस की मौजूदगी में शहर के प्रतिबंधित क्षेत्र वीरचंद पटेल पथ स्थित भाजपा कार्यालय पर हमला कर दिया। हमले में कई कार्यकर्ताओं के सिर फोड़ दिए गए। इस दौरान राहगीरों की कारें भी क्षतिग्रस्त कर दी गई।

हमले के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चंद कदमों की दूरी पर एक होटल में बैंकर्स मीटिंग कर रहे थे। भाजपा और राजद कार्यालयों के बीच इस सड़क पर चंद कदमों का फासला है। भाजपा ने हमले को कायरतापूर्ण कार्रवाई बताते हुए कहा कि पार्टी इसे जनता की अदालत में ले जाएगी जिसका जवाब जनता की ओर से दिया जाएगा।

नंग-धड़ंग प्रदर्शन करते हमला

छात्र राजद के सैकड़ों कार्यकर्ता लाठी-डंडे और बोतलों के साथ प्रदर्शन करते पुलिस की निगरानी में पहुंचे और भाजपा कार्यालय में घुसकर पार्टी जनों को पीटा। इस दौरान कई के सिर फोड़ दिए गए और कइयों को पीटा गया। कार्यालय में कार्यरत कई कर्मियों को भी पीटा गया और तोडफ़ोड़ की गई। प्रदेश कार्यालय में उस दौरान भगदड़ मच गई। पार्टी के नेता इस दौरान गर्दनीबाग धरना स्थल पर सूबे की सरकार से लालू यादव के दोनों बेटों को बर्खास्त करने की मांगों के साथ धरने पर बैठे थे।

भाजपा का विरोध प्रदर्शन

हमले के बाद बड़ी संख्या में भाजपा समर्थक जुटे और नारेबाजी करते राजद कार्यालय की ओर आगे बढ़े। इस बीच बड़ी तादात में पुलिस इकट्ठा हो गई और भाजपा कार्यकर्ताओं को आगे बढऩे से रोक दिया। हमला करने वालों पर कार्रवाई की मांग करते हुए भाजपा समर्थकों ने वीरचंद पटेल पथ जाम कर दिया। बाद में जीतन राम मांझी सुशील मोदी के नेतृत्व में एनडीए नेताओं ने डीजीपी से भेंट की और हमले के दोषियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए पुलिस की गतिविधियों की भी शिकायत की। इस बीच सिटी एसपी ने हमलावरों की पहचान कर कार्रवाई करने का ऐलान किया।

भाजपा नेताओं का आक्रोश

भाजपा नेता सुशील मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चुप्पी पर सवाल करते हुए कहा कि नीतीश कुमार पहले यह तय कर लें कि वह क्या चाहते हैं। भाजपा कार्यालय पर हमले का पार्टी करारा जवाब दे सकती है पर हम शांतिपूर्ण विरोध और लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं। मोदी ने कहा कि लालू-परिवार ने अवैध तरीके से हजार करोड़ की संपत्ति खड़ी कर ली।

आयकर विभाग कार्रवाई कर रहे हैं तो खीझ भाजपा के लोगों पर निकाली जा रही है। प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने हमले को हताशा और कायरतापूर्ण करार दिया। राजद ने कानून अपने हाथ में लेकर यह सब किया। लोकतंत्र में मर्यादा हनन का कोई स्थान नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा इसे जनता की अदालत में ले जाएगी और जनता कड़ा फैसला देगी।

इस बीच राजद प्रवक्ता मनोज झा ने उल्टे भाजपा को दोषी करार दिया। झा ने कहा कि प्रदर्शन कर रहे छात्र राजद के लोगों पर भाजपा कार्यालय से ईंट पत्थर फेंके गए तब प्रदर्शनकारियों ने विरोध प्रदर्शन किया। झा इस बात का जवाब नहीं दे पाए कि प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रदर्शन की इजाजत किसने दी। इस सवाल को भी वह टाल गए कि वीडियो में सिर्फ राजद के लोग ही पुलिस संरक्षण में हमला करते देखे गए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???