Patrika Hindi News

बादल के खिलाफ चुनाव लडऩा चाहते हैं अमरिंदर सिंह

Updated: IST Amarinder Singh
अमरिंदर ने संवाददाताओं से कहा कि अकाली नेता को हराने के लिए वह लिंबी विधानसभा क्षेत्र से मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ चुनाव लडऩा चाहते हैं

अमृतसर। पंजाब की राजनीति को एक दिलचस्प मोड़ देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री और शिरोमणि अकाली दल के संरक्षक प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ उनके क्षेत्र लिंबी से अगले महीने विधानसभा चुनाव लडऩे हेतु कांग्रेस हाईकमान से अनुमति मांगी है। अमरिंदर ने संवाददाताओं से कहा कि अकाली नेता को हराने के लिए वह लिंबी विधानसभा क्षेत्र से मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ चुनाव लडऩा चाहते हैं। उन्होंने बादल पर पंजाब को बर्बाद करने का आरोप भी लगाया। हालांकि कांग्रेस पहले ही पटियाला शहर से उनके नाम की घोषणा कर चुकी है।

अमरिंदर ने कहा कि उन्होंने लिंबी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडऩे की अनुमति के लिए कांग्रेस हाईकमान से आग्रह किया है, ताकि वह बादल के भ्रष्ट और विनाशकारी शासन से पंजाब को मुक्त करा सकें। पंजाब की सभी 117 सीटों पर अकाली-भाजपा गठबंधन और कांग्रेस को चार फरवरी के चुनाव के लिए गंभीर चुनौती पेश कर रही आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली के विधायक जरनैल सिंह को बादल के खिलाफ लिंबी से अपना उम्मीदवार बनाया है।

अमरिंदर ने कहा कि अगर हाईकमान ने मंजूरी दी तो वह लिंबी और पटियाला दोनों विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, पूरे राज्य का खस्ताहाल है। बादल और उनके परिवार तथा सहयोगियों ने पंजाब को एक शर्मनाक स्थिति में ला दिया है।

केवल जिताऊ उम्मीदवार उतरेंगे चुनाव मैदान में: अमरिंदर

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि पार्टी सोच समझकर केवल जिताऊ उम्मीदवारों को ही टिकट दे रही है और जीत के लिये कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

सिंह ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि सूची जारी होने में देरी तथा कांग्रेस में बगावत जैसी बेबुनियाद बातें फैलायी जा रही है। सच यह है कि पार्टी वरीयता के आधार पर ही टिकट दे रही है जिसमें समय लगता है। कांग्रेस ने अपने मौजूदा कुछ विधायकों के भी टिकट काटे हैं। पार्टी का निर्णय ही सर्वोपरि है। परिवारवाद से मुक्ति पाने के लिये एक परिवार के एक सदस्य को ही टिकट दिया गया है। उसके बावजूद यदि कोई पार्टी छोड़कर जाना ही चाहता है तो उसकी मर्जी।

उन्होंने कुछ विधायकों के टिकट काटे जाने में किसी नेता की भूमिका से इंकार करते हुये कहा कि टिकटों के बारे पार्टी हाईकमान का अंतिम निर्णय होता है। इस बार तो सीट जीतना सबसे बड़ा प्रयास रहेगा। रणनीतिकार प्रशांत किशोर पर उंगली उठाना भी ठीक नहीं । उनका टिकटों को लेकर कोई हस्तक्षेप नहीं।

अमरिंदर ने कहा, मेरी सरकार अकाली दल के सभी घोटालों की जांच कराएगी और किसी भी आपराधिक कृत्य, खासतौर पर मादक पदार्थों की तस्करी में दोषी पाए जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति को दंडित करेगी। पंजाब में साल 2007 से अकाली-भाजपा गठबंधन की सरकार है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???