Patrika Hindi News

तो, इसलिए भारत ने ओबामा की टिप्पणियों का किया विरोध

Updated: IST Modi Obama
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि ऐसा कोई उदाहरण नहीं है कि भारत ने कभी किसी देश के विरुद्ध सैन्य आक्रमण किया हो

नई दिल्ली। भारत ने परमाणु हथियारों को लेकर भारत के सैन्य सिद्धांत पर अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की टिप्पणियों को 'समझ की कमी' बताते हुए सोमवार को उन्हें खारिज कर दिया और उन्हें याद दिलाया कि भारत ने कभी किसी पर हमला नहीं किया और आज भी वह एक स्पष्ट नीति पर चल रहा है कि वह परमाणु हथियारों का पहले प्रयोग नहीं करेगा।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने वॉशिंगटन में परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन के संबंध में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में ओबामा की टिप्पणियों का उल्लेख किए जाने पर कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि भारत के रक्षा सिद्धांत को लेकर समझ की कुछ कमी है। प्रवक्ता ने कहा कि ऐसा कोई उदाहरण नहीं है कि भारत ने कभी किसी देश के विरुद्ध सैन्य आक्रमण किया हो। भारत की नीति परमाणु शस्त्र पहले इस्तेमाल नहीं करने की है।

उन्होंने कहा कि इसलिए परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन में अमरीकी राष्ट्रपति की टिप्पणियों, कि कुछ देशों द्वारा छोटे परमाणु शस्त्रों का निर्माण उनके चोरी होने के खतरे को बढ़ाने वाला है, को दरअसल वैश्विक संदर्भ में देखा जाना चाहिए। ओबामा ने उक्त संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल के जवाब में भारत एवं पाकिस्तान की परमाणु शस्त्र नीतियों को एक ही तराजू में तौलते हुए कहा था कि दोनों देशों को अपने सैन्य सिद्धांतों को गलत दिशा में जाने से रोकना सुनिश्चित करना चाहिए।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???