Patrika Hindi News

चौथी पारी के सवाल को टाल गए सीएम, कहा केंद्र में भाजपा की सरकार है तो राज्य को मिलेगा इसका लाभ

Updated: IST CM, who had deferred the fourth innings question,
भाजपा की प्रांतीय कार्यसमिति बैठक गुरुवार को शहर में शुरू हुई। दो दिवसीय इस बैठक के पहले दिन लगभग पूरी सरकार रायगढ़ के प्रवास पर रही। बैठक शुरू होने से पहले औपचारिक चर्चा के दौरान लाल बत्ती निकाले जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि सारे मंत्री अपनी लाल बत्ती रायगढ़ में ही छोड़कर जाएंगे।

रायगढ़. भाजपा की प्रांतीय कार्यसमिति बैठक गुरुवार को शहर में शुरू हुई। दो दिवसीय इस बैठक के पहले दिन लगभग पूरी सरकार रायगढ़ के प्रवास पर रही। बैठक शुरू होने से पहले औपचारिक चर्चा के दौरान लाल बत्ती निकाले जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि सारे मंत्री अपनी लाल बत्ती रायगढ़ में ही छोड़कर जाएंगे।

वहीं चौथी पारी के सवाल को दूसरा मोड़ देते हुए सीएम ने कहा कि पहले जब प्रदेश में चुनाव होता था तब केंद्र में कांग्रेस की सरकार होती थी। वहीं अब जब प्रदेश में विधानसभा चुनाव होगा तो केंद्र में भाजपा की सरकार रहेगी। इसका इसका लाभ चुनाव में मिलेगा।

भाजपा के दो दिवसीय कार्य समिति की बैठक को आने वाले 2018 विधान सभा चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है। यह माना जा रहा है कि भाजपा के द्वारा जिस तरह हाल ही में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, असम में जीत का परचम लहराया। इसी तरह प्रदेश में भी भाजपा ने अपनी चौथी पारी के लिए रणनीति तय करनी शुरू कर दी है। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री अनिल जैन, राष्ट्रीय महासचिव सरोज पाडेंय, केंद्रीय राज्य मंत्री विष्णुदेव साय, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी पहुंचे थे। प्रदेश कार्य समिति की बैठक शुरू होने से पहले ही मुख्यमंत्री ने मीडिया से औपचारिक चर्चा की। इस जब उनसे यह पूछा गया कि क्या भाजपा के द्वारा प्रदेश में चौथी पारी शुरू करने के लिए यह बैठक हो रही है तो उन्होंने इस बात को टालते हुए कहा कि इसमें चौथी पारी की कोई बात नहीं है।

प्रदेश सरकार के सीएम और मंत्री रायगढ़ में ही अपनी लाल बत्ती को छोड़कर जाएंगे। इस बात की घोषणा सीएम रमन सिंह ने की। लगभग सवा बजे से कार्यसमिति की बैठक आरंभ हुई है। ऐसे में उद्घाटन सत्र को संबोधित करने पहुंचे सीएम मंच स्थल पर आने से पहले मीडिया से मुखातिब हो रहे थे। इस दौरान प्रधामंत्री नरेंंद्र मोदी के फैसले के विषय में जब सवाल पूछा गया तो सीएम ने कहा कि रायगढ़ में ही सभी मंत्री और अन्य लोग अपनी लाल बत्ती को छोड़कर जाएंगे। विदित हो कि केंद्र सरकार ने वीवीआईपी कल्चर को समाप्त करने के लिए लाल बत्ती के प्रयोग पर रोक लगा दी है। ऐसे में एक मई से इस रोक को लागू किया गया है। हलांकि पीएम के घोषणा के बाद से ही भाजपा शासित प्रदेशों में लाल बत्ती छोडऩे की होड़ लगी हुई है। लोगों में लाल बत्ती को हटाने के लिए काफी सकारात्मक प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। वहीं इस फैसले के बाद सरकार की ओर से यह दलील दी जा रही है कि इससे वीवीआईपी कल्चर का खात्मा होगा। अब मंत्री, विधायक भी आम आदमी की तरह दिखेगा।

कलेक्टर ने गाड़ी से निकलवाई पीली बत्ती- वीआईपी संस्कृति के खिलाफ केंद्र सरकार के निर्णय के बाद गुरुवार को कलेक्टर ने अपनी गाड़ी से पीली बत्ती निकलवा दी है। इसके बाद जिले के सभी एसडीएम और डिप्टी कलेक्टर को निर्देश दिया गया है कि अपने वाहनों में लगी बत्ती को हटा दें। इसके बाद अधिकांश अधिकारियों ने अपने वाहनों में लगी बत्ती निकलवा दिया है। बताया जाता है कि गुरुवार की सुबह विभागीय वाट्सएप ग्रुप में कलेक्टर ने निर्देश जारी किया था कि तत्काल अपने-अपने वाहनों से बत्ती को हटवाएं। उक्त निर्देश पढऩे के बाद यह काम शुरू हुआ।

सूत्रों की माने तो सुबह करीब 10 बजे कलेक्टर व अन्य अधिकारी सीएम के आगमन पर जिंदल एयरपोर्ट पहुंचे तो उस समय कलक्टर सहित अधिकांश अधिकारियों के वाहनों में बत्ती लगी हुई थी। वहां से वापस लौटने के बाद उक्त बत्ती निकल गई और सभी अधिकारियों को निर्देश जारी किया गया। अब यह चर्चा शहर में आम है कि एयरपोर्ट जाते समय तो बत्ती थी पर आते समय बत्ती उतर गई। आखिर इसकी क्या वजह रही होगी। इस बात को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों और पूरे शहर में चर्चा चलती रही। लोगों के बीच तरह-तरह की बातें होती रही। हांलाकि एयरपोर्ट में बत्ती को लेकर किसी प्रकार की बात होने की अधिकारिक पुष्टि नहीं हो रही है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???