Patrika Hindi News

> > > > Labourers removed from the job, staging a sit-carrier out of FCI

हमालों को निकाला नौकरी से, एफसीआई के बाहर धरने पर बैठे हमाल

Updated: IST Labourers removed from the job, staging a sit-carr
एफसीआई गोदाम में पूर्व के हमालों को अब ठेकेदार के द्वारा काम पर नहीं रखा जा रहा है। ऐसे में एफसीआई में काम करने वाले हमाल ठेकेदार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है

रायगढ़. एफसीआई गोदाम में पूर्व के हमालों को अब ठेकेदार के द्वारा काम पर नहीं रखा जा रहा है। ऐसे में एफसीआई में काम करने वाले हमाल ठेकेदार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है

और गोदाम के सामने धरना पर बैठ गए हैं। मजदूर अपनी आवाज बुलंद करते हुए बाहरी मजदूरों से काम नहीं कराने व उन्हें फिर से काम पर रखने की मांग कर रहे हैं।

एफसीआई गोदाम में करीब १६७ मजदूर पिछले लंबे समय से काम कर रहे हैं। चार टीम हमालों का यहां बना हुआ है। जिसमें सभी हमाल मिलजूल कर यहां काम करते हैं,

लेकिन नया ठेका हो जाने से ठेकेदार देवनाथ सिंह राजपूत के द्वारा अब पुराने हमालों को यहां काम नहीं रखा जा रहा है और बाहर से नए मजदूर लाकर काम कराया जा रहा है।

इससे यहां पूर्व के हमालों को काम नहीं मिल पा रहा है और उन्हें आर्थिक समस्याओं से भी जूझना पड़ रहा है। ऐसे में गुरूवार को हमालों ने ठेकेदार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया

और एफसीआई गोदाम के बाहर मुख्य गेट के पास धरने पर बैठ गए। हमालों का कहना है कि उन्हें ठेकेदार के द्वारा कम रुपए पर काम करने की बात कही जा रही है और कम रुपए में काम नहीं करने के कारण उन्हें हटा दिया जा रहा है।

हमालों का कहना है कि इससे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होगी, उनका प्रदर्शन जारी रहेगा। प्रर्दशन के दौरान देशीलाल, सुखदेव, ईश्वर कुर्रे, धनाऊ, हेमलाल मिरी, सुखराम रात्रे सहित अन्य मजदूर मौजूद थे।

कलेक्टर से कर चुके हैं शिकायत

मजदूरों ने बताया कि जब ठेकेदार के द्वारा उनसे काम नहीं लिया जा रहा था। तब पूर्व में उन्होंने इसकी शिकायत ज्ञापन के माध्यम से कलेक्टर को भी कर चुके हैं।

जिसमें उन्हें आश्वसन दिया गया था। इसके बाद भी यहां पुराने मजदूरों को हटा दिया जा रहा है और नए मजदूरों से काम कराया जा रहा है।

मजदूर से काम लिया जा रहा

मेरे पास जितने मजदूर का लायसेंस था, उतने मजदूर से काम लिया जा रहा है। जो मजदूर प्रदर्शन कर रहे हैं। उनके पास दूसरे गोदाम में भी काम है। अगर उन्हें काम में रखुंगा, तो दोनों जगह का काम प्रभावित होगा। इसलिए नहीं रख रहा हूं।

देवनाथ सिंह राजपूत

ठेकेदार, एफसीआई गोदाम

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???