Patrika Hindi News

मंत्री अमर ने कहा हम भावनाओं में बहकर नहीं करेंगे शराबबंदी, इसके दुष्परिणामों की करेंगे जांच

Updated: IST Minister Amar said, "We will not indulge in emotio
प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल ने प्रदेश में शराब बंदी के सवाल पर कहा कि हम भावनाओं में बहकर प्रदेश में शराबंदी लागू नहीं कर सकते हैं। इसके लिए बकायदा हमने टीम का गठन किया है जो शराब के दुष्परिणामों का अध्यन कर रही है।

रायगढ़. प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल ने प्रदेश में शराब बंदी के सवाल पर कहा कि हम भावनाओं में बहकर प्रदेश में शराबंदी लागू नहीं कर सकते हैं। इसके लिए बकायदा हमने टीम का गठन किया है जो शराब के दुष्परिणामों का अध्यन कर रही है। इसके बाद समिति की जो भी रिपोर्ट होगी उसके अनुसार कार्य किया जाएगा। मंत्री कार्य समिति की बैठक में जीएसटी पर अपना प्रेजेंटेशन पेश करने के बाद होटल लॉबी में आए थे।

इस दौरान मीडिया ने शराब बंदी को लेकर सवाल किया था। वहीं मंत्री अमर के इस बयान के बाद सीएम की ओर से बिहार में दिए गए बयान को एक बार फिर से रिचेक करने की पहल लोगों में आरंभ हो गई है। हाल के दिनों में सीएम रमन सिंह बिहार के दौरे पर गए थे और उन्होंने प्रदेश में शराबबंदी लागू करने के इशारे दिए थे। दूसरी ओर उनके ही आबकारी मंत्री यह कह रहे हैं कि हम भावना में बहकर शराबबंदी लागू नहीं करेंगे। टीम बनी है टीम की जो भी रिपोर्ट होगी उसके बाद आगे की कार्रवाई होगी। ऐसे में यह सवाल उठ रहा है कि यदि टीम की रिपोर्ट में सब कुछ ऑल इज वेल रहा तो प्रदेश में शराब बंदी लागू नहीं हो सकती है। जबकि सीएम पहले ही शराब बंदी की दिशा में बढऩे की बात कह चुके हैं।

जब इनकी सरकार थी तो ये नीति बनाते थे- हाल के दिनों में कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल बिलासपुर आए थे। इस दौरान उन्होंने कहा था कि प्रदेश सरकार को शराब की बिक्री नहीं करनी चाहिए। सिब्बल के इस बयान पर प्रदेश आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि जब इनकी सरकार थी तो यही सिब्बल, दिग्विजय सिंह शराब के लिए नीतियां बनाते थे, अब हमारी सरकारी नीति बना रही है तो इन्हें गलत लग रहा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???