Patrika Hindi News

> > > > raigarh : Former MLA challenge

पूर्व विधायक की चुनौती:कुर्सी और कार से उतर कर इस मार्ग पर चलकर दिखांए संसदीय सचिव

Updated: IST the road on the parliamentary secretary
पिछले दिनों हुई नाकेबंदी में प्रशासन को ग्रामीणों की ओर से चार दिन का समय दिया गया है। ऐसे में दो दिन निकल चुके हैं अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।

रायगढ़. पाली घाट से रायगढ़ तक आने वाली सड़क की दुदर्शा पर चुनौति देते हुए छजकां के नेता व पूर्व विधायक हृदयराम राठिया ने कहा है कि इस क्षेत्र के संसदीय सचिव एक बार अपनी कुर्सी और कार से उतकर इस मार्ग में चल कर दिखाएं तब लोगों के दर्द का एहसास उन्हें होगा। हृदयराम राठिया ने कहा कि जिस मार्ग को प्रशासन द्वारा स्वत: ही निर्माण कराया जाना चाहिये उस मार्ग के लिये हमें आंदोलन करना पड़ रहा है, क्या यह मार्ग हमारे राज्य का नही है। यह मार्ग हमीरपुर, पाली, धौराभांठा एवं आसपास के गांवो के लिये जिला तक पहुंचाने वाला मार्ग है और इस मार्ग का निर्माण होना आवश्यक है।

इस तरह के भेदभाव को हम सहन नही करेगें। विदित हो कि इस जर्जर मार्ग के निर्माण या सुधार के लिए ग्रामीणों की ओर से लगातार मांग की जा रही है पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि वर्तमान में आलम यह है कि पालीघाट से रायगढ़ जाने वाली मुख्य मार्ग की जर्जर स्थिति को देखकर आप यह कह नहीं सकेंगे कि यह मार्ग उस तहसील तमनार का है जहां बड़े-बड़े उद्योगो का अंबार है रात के समय विकास की दूधिया रोशनी चमचमाती है।

विदित हो कि पूर्व में मार्ग का निर्माण कराने ग्रामीणों ने कलक्टर, एसडीएम घरघोड़ा को ज्ञापन दिया था और निर्माण की मांग की थी। पर साल भर बाद भी इस मार्ग का कायाकल्प नहीं हो सका है। 7 नवम्बर 2016 को छजकां द्वारा इसी मार्ग के नव निर्माण के लिये तहसीलदार तमनार को ज्ञापन सौंपा गया था। इसके बाद 27 नवम्बर की सुबह 7 बजे से छजकां यानि छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस और जर्जर मार्ग का खामियाजा भूगत रहे क्षेत्रवासियों ने मिलकर आर्थिक नाकेबंदी कर दी थी। हलांकि मौके पर प्रशासन की टीम पहुंची थी और मांगों को पूरा किए जाने का आश्वासन दिया था।

चार दिन का इंतजार

पिछले दिनों हुई नाकेबंदी में प्रशासन को ग्रामीणों की ओर से चार दिन का समय दिया गया है। ऐसे में दो दिन निकल चुके हैं अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है। अब फिर से लोगों की ओर से कहा जा रहा है कि यदि चार दिन में निर्माण प्रारंभ नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???