Patrika Hindi News

Video Icon पत्रिका लाइव हल्लाबोल: क्या दो से ज्यादा बच्चों वालों को नहीं देना चाहिए सरकारी नौकरी

Updated: IST Hallabol Big debate
पत्रिका छत्तीसगढ़ के फेसबक लाइव शो हल्लाबोल में जनसंख्या वृद्धि को लेकर चर्चा की गई। शो का विषय था क्या दो से ज्यादा बच्चों वालों को सरकारी नौकरी नहीं देना चाहिए।

रायपुर. पत्रिका छत्तीसगढ़ के फेसबक लाइव शो हल्लाबोल में जनसंख्या वृद्धि को लेकर चर्चा की गई। शो का विषय था क्या दो से ज्यादा बच्चों वालों को सरकारी नौकरी नहीं देना चाहिए। इस मुद्दे पर वार्ता करने आए अतिथियों ने अपने-अपने विचार रखे। पत्रिका छत्तीसगढ़ के फेसबक लाइव शो हल्लाबोल में जनसंख्या वृद्धि को लेकर चर्चा की गई। शो का विषय था क्या दो से ज्यादा बच्चों वालों को सरकारी नौकरी नहीं देना चाहिए। इस मुद्दे पर वार्ता करने आए अतिथियों ने विचार रखे।

सरकार के नियम को करें फॉलो : शो में आए आर्युवेदिक डॉक्टर हरेंद्र मोहन शुक्ला ने सरकार के नियम को सही बताते हुए कहा कि हमें सरकार की प्रणाली को समझना चाहिए। अभी भी लोगों में भ्रम है कि परिवार नियोजन क्या है। सरकारी नौकरी में बढ़ती जनसंख्या पर ये नियम लागू करना कि दो से अधिक बच्चों वालों को नौकरी नहीं मिलना एक सही नियम है। सरकार का मै पक्ष लेता हूं और मेरी नजर में जो भी नियम बन रहे है। जनसंख्या रोकने वे सही हैं।

दो से ज्यादा बच्चे नहीं है गुनाह : दो से ज्यादा बच्चे हो जाना गुनाह नहीं है। ये कहना था कार्यक्रम में आए छत्तीसगढ़ शिक्षाकर्मी सदस्य घनश्याम पटेल का इन्होंने कहा कि आज हम देखें तो सभी लोग समझ गए है कि हम दो हमारे दो। सके बावजूद अगर दो से ज्यादा संतान होती है तो वह गुनाह नहीं है। आज सरकार की नीतियों को समझने की जरूरत है सरकार परिवार नियोजन में जो कदम उठाएगी वो सही होगा।

योजनाओं पर ध्यान देना जरूरी

शो में आए डॉ. नरेश साहू ने सरकार को स्वयं की योजनाओं पर ध्यान रखने की सलाह दी और कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार एक तरफ तो जनसंख्या निवारण पखवाड़ा चलाती है जो 11 जुलाई से शुरू होता है। दूसरी तरफ जनसंख्या को बढ़ावा दे रही है। मेरा मानना है कि पुत्र लालसा में यहां जनसंख्या बढ़ रही है। नसबंदी को लेकर सरकार सजग नहीं है और इसका उदाहरण प्रदेश में नसबंदी कांड से सभी जानते हैं। इसके अलावा कॉपर टी का आजतक प्रचार नहीं करते तो जनसंख्या रोक लगेगी कैसे। अब बात रही नौकरी की तो ये नियम गलत है। पूरी तरह से जनसंख्या पर रोक लगनी चाहिए।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???