Patrika Hindi News

> > > > Raipur: Emergency landing, indigo flyte, Oxygen

इमरजेंसी लैंडिंग के बाद बच्चे की मौत पर उठे सवाल

Updated: IST Indigo flyte
बच्चे की मौत उड़ान के दौरान हुई या विमान में चिकित्सकीय जांच नहीं होने के कारण बचाया नहीं जा सका

रायपुर . इंडिगो की इमरजेंसी लैडिंग के बाद बुधवार को नवजात की मौत ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। यह सवाल भी सुलग रहा है कि क्या ऑक्सीजन की कमी के कारण बच्चे की मौत उड़ान के दौरान हुई या विमान में चिकित्सकीय जांच नहीं होने के कारण बचाया नहीं जा सका। गौर करने वाली बात यह है कि मासूम के लिए ग्रीन कॉरिडोर भी नहीं बनाया जा सका, रायपुर में पहले दो बारग्रीन कॉरिडोर का सफल प्रयोग किया जा चुका है। एयरपोर्ट से नजदीक रामकृष्ण, एमएमआई, सत्य सांई, वीवॉय हॉस्पिटल को छोड़कर न्यू शांति नगर स्थित एकता हॉस्पिटल क्यों ले जाया गया। यदि बच्चे को नजदीक के हॉस्पिटल में शिफ्ट किया जाता तो जान बच जाती।

ईएमडी ने कहा-पहले ही हो गई थी मौत

108 एबुलेंस के ईमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन (ईएमडी) रूपेंद्र मिश्रा ने 'पत्रिकाÓ को बताया कि बच्चे को विमान से एंबुलेंस में शिफ्ट करने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी।

अधिकारियों ने दी थी एकता जाने की सलाह

ईएमडी ने बताया कि एकता हॉस्पिटल ले जाने के निर्देश एयरपोर्ट में मौजूद प्राथमिक उपचार केंद्र के चिकित्सकों ने भी दी। हॉस्पिटल तक लाने में 8 से 10 मिनट का समय लगा।

एयरपोर्ट से इन अस्पतालों की दूरी

  1. रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल
  2. 13 किमी की दूरी, 21 मिनट
  3. एयरपोर्ट से एमएमआई
  4. 12 किमी दूरी, 20 मिनट
  5. एयरपोर्ट से एकता
  6. 14 किमी दूरी, 24 मिनट
  7. एयरपोर्ट से सत्य साईं
  8. 10 किमी दूरी, 18 मिनट
  9. एयरपोर्ट से वीवॉय
  10. 12 किमी दूरी, 24 मिनट
स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट माना निदेशक संतोष धोके ने बताया कि निर्णय एयरलाइंस कंपनी का है कि बच्चे का किस हॉस्पिटल में इलाज कराना है।

ईएमडी, 108 एंबुलेंस रूपेंद्र मिश्रा ने बताया कि एयरपोर्ट की चिकित्सकीय टीम की सलाह पर बच्चे को एकता हॉस्पिटल ले जाया गया। उन्हें अन्य हॉस्पिटल ले जाने की सलाह नहीं दी गई।

एकता हॉस्पिटल मैनेजर समीर शर्मा ने बताया कि हॉस्पिटल पहुंचने के पहले ही बच्चे की मौत हो चुकी थी। प्रबंधन ने बच्चे की मौत को ब्रॉड डेड करार दिया।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे