Patrika Hindi News

होटलों में खाने के शौकीन हैं तो ध्यान रखें! परोसा जा रहा है पक्षियों का मांस

Updated: IST meat shop
प्रदेश के बड़े होटलों और ढाबों में पक्षियों का मांस परोसे जाने की कई शिकायत सामने आने पर वन विभाग ने अलर्ट जारी किया है।

रायपुर. प्रदेश के बड़े होटलों और ढाबों में पक्षियों का मांस परोसे जाने की कई शिकायत सामने आने पर वन विभाग ने अलर्ट जारी किया है। डीएफओ को ढाबों में सैंपल लेने का आदेश दिया है। वन विभाग ने सरायपाली, पिथौरा, बारनवापारा, चारामा, माकड़ी, कांकेर, कोंडागांव, राजनांदगांव के चिचोला, मानपुर, कबीरधाम और सिमगा इलाके के होटल-ढाबे को निगरानी में लिया है। यहां प्रतिबंधित कबूतर, बटेर, तीतर समेत अन्य पक्षियों के विक्रय की सूचना वन विभाग को मिली थी। प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) आरके सिंह ने बताया कि सभी डीएफओ को ढाबों और होटलों में जांच करने और लगातार निगाह रखने के लिए कहा गया है।

स्वाद के लिए ले रहे जान
लगातार बढ़ रहे मांसाहार के प्रचलन से लोग पक्षियों का मांस खाने से भी परहेज नहीं कर रहे हैं ऐसे में रुपयों के लालच में होटल कारोबारी उनके स्वाद के अनुरूप भोजन का इंतजाम कर रहे हैं। आलम ययह है की होटल व ढाबों में खुलेआम तरह- तरह की चिडि़यों और जंगली जानवरों का मांस परोसा जा रहा है। लोगों की डिमांड पर उल्लू, सुरखाब, मोर, हारिल, हिरन, बंदर, कबूतर, बघेरी समेत तमाम तरह के पशु- पक्षियों के मांस परोसे जा रहे हैं।

मांसाहारी भोजन करने से नुकसान

-मांसाहारी भोजन की तुलना में शाकाहारी भोजन सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है.

-शाकाहारी भोजन इंसान को स्वस्थ, दीर्घायु, निरोग और तंदरुस्त बनाता है. मांसाहारी लोगों में कई तरह की गंभीर बीमारियों का खतरा शाकाहारी लोगों के मुताबिक कहीं ज्यादा होता है.

मांसाहार से हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, दिल की बीमारी, कैंसर, गुर्दे का रोग, गठिया और अल्सर जैसी कई बीमारियां हो सकती हैं।

-मांसाहार भोजन करने से इंसान के भीतर चिड़चिड़ापन आने लगता है।

-मांसाहार से स्वभाव से उग्र होने लगता है. मांसाहार आपके तन और मन दोनों को अस्वस्थ कर देता है.।

-बर्ड फ्लू और स्वाइन फ्लू जैसी बीमारियां मुर्गियों और सूअरों के ज़रिए इंसानों को अपना शिकार बनाती हैं.।

-वैज्ञानिक व धामिक नज़रिए से भी मांसाहार को सेहत के लिए हानिकारक माना गया है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???