Patrika Hindi News

झोलाछाप डॉक्टर ने लगाया इंजेक्शन, महिला का हाथ काला पड़कर हुआ सुन्न

Updated: IST fake doctor
झोलाछाप डॉक्टर से बुखार को इलाज कराना एक महिला को भारी पड़ गया। उसके दिए इंजेक्शन के कारण महिला के हाथ में इंफेक्शन हो गया। हाथ काला पड़ गया और काम भी नहीं कर रहा है

रायपुर. झोलाछाप डॉक्टर से बुखार को इलाज कराना एक महिला को भारी पड़ गया। उसके दिए इंजेक्शन के कारण महिला के हाथ में इंफेक्शन हो गया। हाथ काला पड़ गया और काम भी नहीं कर रहा है। महिला का एम्स अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पुलिस के मुताबिक, मामले में आरोपी महावीर नगर निवासी डॉक्टर विक्रम देवांगन (30) को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह खुशी सिटी, अमलीडीह, राजेन्द्र नगर में अपना क्लीनिक चलाता है। 17 अक्टूबर को सावित्री गुप्ता (22) पति आनंद गुप्ता (35) बुखार को इलाज कराने के विक्रम के क्लीनिक गई।

आरोपी ने सावित्री को इंजेक्शन दिया और बुखार उतरने की बात कही। बुखार उतरने के बजाए इजेक्शन लगने वाली जगह पर फोड़ा उगने लगा। साथ ही हाथ काला पड़ गया। इसकी शिकायत महिला के पति ने न्यू राजेन्द्र नगर थाने में कर दी। इसके बाद महिला को अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां से डॉक्टरों ने उसे एम्स अस्पताल रिफर कर दिया। वहां महिला का इलाज जारी है, लेकिन हालत में सुधार नहीं है। आरोपी डॉक्टर को हिरासत में लेकर न्यू राजेन्द्र नगर थाने में मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान परिषद अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

डॉक्टर की डिग्री फर्जी
पुलिस की जांच में डॉक्टर विक्रम देवांगन की डॉक्टरी की डिग्री फर्जी पाई गई है। उसे आधुनिक पद्धति से इलाज करने का अधिकार नहीं है। इसके बावजूद उसने आधुनिक पद्धति से इलाज किया।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???