Patrika Hindi News

जहां बनाना थी बाउंड्रीवाल वहां नहीं बनाई

Updated: IST MP Department of Education,
रायसेन. शहर में पुराना थाना के समीप संचालित मिडिल स्कूल परिसर की बाउंड्रीवाल के लिए लंबे समय से स्कूल प्र्रबंधन और शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। लेकिन बाउंड्रीवाल निर्माण के लिए कहीं से भी राशि उपलब्ध नहीं हो सकी है।

रायसेन. शहर में पुराना थाना के समीप संचालित मिडिल स्कूल परिसर की बाउंड्रीवाल के लिए लंबे समय से स्कूल प्र्रबंधन और शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। लेकिन बाउंड्रीवाल निर्माण के लिए कहीं से भी राशि उपलब्ध नहीं हो सकी है।

जिला शिक्षा केन्द्र द्वारा प्रतिवर्ष बनाकर भेजी जाने वाली कार्ययोजना में स्कूली बांउड्रीवाल के लिए राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा राशि आवंटित नहीं की गई है। ऐसे में यहां पर छात्र-छात्राओं और शिक्षकों को हर दिन अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ता है। क्योंकि स्कूल परिसर का मैदान खुला होने के कारण वाहनों की पार्किंग रहती है और असामाजिक तत्वों की आवाजाही भी लगी रहती है।

विधायक ने भी नहीं दी राशि

करीब दो वर्ष पहले 15 अक्टूबर को विश्व हाथ धुलाई दिवस के मौके पर यहां बड़ा कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों के हाथ धुलवाए गए थे। इस कार्यक्रम में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार और तत्कालीन प्रभारी कलेक्टर अनुराग चौधरी भी उपस्थित रहे थे। तब विभाग के अधिकारियों और स्कूल प्रबंधन द्वारा बाउंड्रीवाल निर्माण के लिए विधायक निधि से राशि आवंटन की मांग की गई थी। लेकिन क्षेत्रीय विधायक और वन मंत्री द्वारा विधायक निधि से राशि देने की मांग को अनसुना कर दिया और आज तक इस स्कूल की बाउंड्रीवाल नहीं बनी। जबकि विधायक निधि से कलेक्टे्रट कालोनी स्कूल की बांउड्रीवाल का निर्माण हो चुका है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
More From Raisen
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???