Patrika Hindi News

पहली तारीख को वेतन के लिए बैंक में उमड़ी भीड़

Updated: IST raisen
स्टेट बैंक, सेन्ट्रल बैंक शाखाओं में कैश की रही पर्याप्त उपलब्धता

रायसेन. नोट बंदी के बाद दिसंबर माह की पहली तारीख को सरकारी कर्मचारी वेतन निकलने बैंक शाखाओं और एटीएम पहुंचे। जिले में मुद्रा तिजौरी की सुविधा भारतीय स्टेट बैंक को होने के कारण एसबीआई सहित सेन्ट्रल बैंक के खाता धारकों को नकदी संबंधी परेशानी नहीं उठानी पड़ी, लेकिन ग्रामीण बैंक सहित केनरा बैंक, पंजाब नेशनल, इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ इंडिया आदि शाखाओं मे कर्मचारियोंं को पर्याप्त मात्रा में नकद राशि उपलब्ध नहीं हो सकी। इसके अलावा भारतीय रिजर्व बैंक से आदेश नहीं मिलने के कारण 24 हजार रुपए एक सप्ताह में निकालने की सीमा अभी तक बरकरार है। ऐसे में लोगों को परेशानियां उठानी पड़ी। अब उन्हें दोबारा बैंक या एटीएम जाकर अपनी सैलरी निकालनी होगी। इस व्यवस्था से पेंशनरों को भी खासा परेशान होना पड़ रहा है। पेंशन निकालने पहुंचे डीके सिंह ने बताया कि लंबी लाइन और पर्याप्त नकदी नहीं होने के चलते दो बार में पेंशन निकाली जा सकेगी।

ये रही भुगतान की स्थिति

जिला कोषालय अधिकारी उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि जिलेभर में लगभग आठ हजार कर्मचारी, अधिकारी हैं। प्रतिमाह इनके लिए करीब 17 से 18 करोड़ रुपए वेतन की राशि जारी होती है। नवम्बर माह के वेतन की राशि भी जारी कर दी गई है। जानकारी के अनुसार एक दिसंबर को लगभग 12 करोड़ रुपए की राशि कर्मचारियों के खाते में ट्रांसर्फर हो चुकी है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???