Patrika Hindi News

अपहरण और हत्या के आरोप में दो को आजीवन कारावास

Updated: IST
जीरापुर थाना क्षेत्र के गांव भीकनपुर और कोटला के मध्य वर्ष 2011 में मिले अज्ञात शव के संबंध में करीब चार वर्ष तक चली सुनवाई के बाद अतरिक्त सत्र

राजगढ़. जीरापुर थाना क्षेत्र के गांव भीकनपुर और कोटला के मध्य वर्ष 2011 में मिले अज्ञात शव के संबंध में करीब चार वर्ष तक चली सुनवाई के बाद अतरिक्त सत्र न्यायाधीश राजेश गुप्ता ने दो आरोपियों को आजीवन कारावास सहित अर्थदंड से दंडित किया है। जबकि साक्ष्य के आभाव में तीन अन्य आरोपियों को बरी किया गया है।

मामले की पैरवी कर रहे लोक अभियोजक गिरिश शर्मा ने बताया कि मामला वर्ष 2011 का है जिसमें जीरापुर की गांधी बस्ती में रहने वाले किशोर हरिजन ने अपने ही रिश्तेदार बद्रीलाल से उसके दो पुत्रों और मोहनलाल से उसकी खुद की नौकरी लगवाने के नाम पर कुछ पैसे लिए थे, लेकिन लंबे समय तक नौकरी नहीं लगने पर बद्रीलाल और मोहनलाल ने अपने पैसे की मांग की, लेकिन काफी समय बीत जाने के बावजूद जब किशोर यह पैसे नहीं लौटा सका।

घर से बुलाकर ले गए थे आरोपी

इसी विवाद को लेकर चार नंवबर 2011 को दोनों ने किशोर के घर पहुंच उसे अपने साथ ले गए। करीब चार पंाच घंटे बाद पत्नी सौरम बाई द्वारा फोन लगाने पर किशोर ने दोनों आरोपियों सहित तीन अन्य लोगों के साथ शराब पीने की जानकारी दी, लेकिन वह अगले दिन तक नहीं लौटा और इसके बाद से उसका कोई संपर्क भी नहीं रहा। जब सौरमबाई ने मोहन को फोन लगाया तो उसने डेढ़ लाख रुपए की व्यवस्था करने और इसके बाद किशोर को सौंपने की बात कही। जिस आधार पर सौरम बाई ने अपने पति के गुम हो जाने की रिपोर्ट जीरापुर थाने में दर्ज कराई।

इस घटना के सात दिन बात जीरापुर से दूर कोटला गांव के पास एक अज्ञात शव मिले होने की सूचना के बाद जीरपुर पुलिस शव की तफ्तीश करवाई। पुलिस द्वारा करवाई गई जांच और लोक अभियोजन की दलीलों के आधार पर न्यायाधीश ने शव को किशोर का मानते हुए इसकी हत्या के लिए ब्रदीलाल और मोहनलाल को जिम्मेदार माना और इस आधार पर दोनों को आजीवन कारवास सहित अर्थदंड से दंडित किया है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???