Patrika Hindi News

कॉलेज स्पोर्ट्स-डे पर छात्र संगठन आपस में भिड़े, थाने पहुंचा मामला

Updated: IST College Sports Day at loggerheads student organiza
दिग्विजय कॉलेज में गुरुवार को आयोजित स्पोर्ट्स-डे भी राजनीति की भेंट चढ़ गया। कार्यकर्ता के बीच मंच पर ही जमकर बहस हो गई।

राजनांदगांव. दिग्विजय कॉलेज में गुरुवार को आयोजित स्पोर्ट्स-डे भी राजनीति की भेंट चढ़ गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महापौर मधुसूदन यादव के भाषण के दौरान ही एनएसयूआई और अभाविप समर्थित छात्र नेता आपस में हूटिंग करते रहे। वहीं अतिथियों के जाने के बाद छात्रसंघ अध्यक्ष प्रीति वैष्णव एवं अभाविप कार्यकर्ता के बीच मंच पर ही जमकर बहस हो गई। मंच के बाद कैंटीन में दोनों फिर से बहस करने लगे।

थाने में लिखित शिकायत

इसके बाद प्रीति ने अभाविप कार्यकर्ता पर दुव्र्यव्हार का आरोप लगाते हुए बसंतपुर थाने में लिखित शिकायत की। वहीं अभाविप नेता ने छात्रसंघ अध्यक्ष पर माइक छिनने का आरोप लगाया। एनएसयूआई समर्थित छात्रसंघ के पदाधिकारियों ने पहले से ही स्पोर्ट्स-डे का विरोध करने का एलान कर दिया था। बावजूद छात्रसंघ के पदाधिकारी कार्यक्रम स्थल पर मौजूद रहे। यहां विरोध स्वरूप छात्रसंघ के पदाधिकारी मंच के पास काला रिबन बांधकर बैठे थे।

छात्रसंघ अध्यक्ष विरोध करने लगी

कार्यक्रम समापन के दौर में अतिथि कॉन्फ्र्रेस हॉल की ओर चले गए। इस बीच अभाविप के नेता प्रदीप झा ने कार्यक्रम का विरोध करने वालों के संबंध में बातें कही तो माहौल गरमा गया। इस बीच छात्रसंघ अध्यक्ष प्रीति मंच पर पहुंची और छात्रसंघ पदाधिकारियों की भूमिका सवाल उठाने पर विरोध करने लगी। दोनों के बीच मंच बहस हुई। कैंटीन में दोनों फिर से उलझ गए।

आपस में आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे

एनएसयूआई और अभाविप के छात्र नेता इकट्ठा हो गए। आपस में आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। प्राचार्य और अन्य प्रोफेसरों ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को शांत कराया। अभाविप के छात्र नेता प्रदीप झा ने कहा कि मंच पर मुझे आभार व्यक्त के लिए आमंत्रित किया गया था। उद्बोधन में कार्यक्रम का विरोध करने वालों का उल्लेख किया। छात्र संघ अध्यक्ष ने माइक छिनकर नीचे भेज दिया।

एफआईआर की मांग

इस तकरार के बाद प्रीति अपने समर्थकों के साथ सीधे बसंतपुर थाना पहुंच गई। उसने प्रदीप पर कार्यक्रम के दौरान दुव्र्यवहार करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर की मांग की है। प्रीति का कहना है कि घेरकर कुछ लोग बुरा भला कह रहे थे। टीआई याकुब मेमन ने कहा कि मुझ तक आवेदन नहीं पहुंचा है।

शिलान्यास पत्थर पर नाम

इसके पहले महापौर मधुसूदन यादव ने कार्यक्रम के दौरान छात्र राजनीति को हावी होता देखकर कहा कि मैंने नैतिकता के नाते छात्रसंघ अध्यक्ष प्रीति वैष्णव का नाम शिलान्यास पत्थर पर लिखवाया है जबकि काम शुरू होते ही प्रीति का कार्यकाल खत्म हो जाएगा।

सिर्फ राजनीति ही न करते रहें

महापौर ने यह भी कहा कि कुछ छात्र सिर्फ ज्ञापन सांैपने की राजनीति कर रहे हंै जो कि अच्छा नहीं है। कहा कि कार्यक्रम में जनभागीदारी अध्यक्ष के नाते नहीं बल्कि महापौर के नाते पहुंचा हूं। महापौर ने इस दौरान छात्रों को यह समझाने की कोशिश की कि पढ़ाई पर विशेष ध्यान दें, सिर्फ राजनीति ही न करते रहें।

आपस में ही बहस

प्राचार्य डॉ.आरएन सिंह ने कहा कि स्पोर्ट्स-डे का कार्यक्रम बढिय़ा हुआ। छात्र आपस में ही बहस कर रहे थे। यह बड़ी बात नहीं है। दोनों पक्षों को शांत रहने भी कहा गया। समझाइश भी दी गई।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???