Patrika Hindi News

> > > > Rajnandgaon: Factory worker suicide due to cash-strapped

आर्थिक तंगी से परेशान फैक्ट्री कर्मचारी झूल गया फांसी पर

Updated: IST By hanging The young man sucide
लंबे समय से वेतन नहीं मिलने के कारण आर्थिक स्थिति खराब होने से परेशान मिनवुल राक फैक्ट्री के एक कर्मचारी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है

राजनांदगांव. लंबे समय से वेतन नहीं मिलने के कारण आर्थिक स्थिति खराब होने से परेशान मिनवुल राक फैक्ट्री के एक कर्मचारी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। कर्मचारी के आत्महत्या से आक्रोशित साथी कर्मचारियों ने उचित मुआवजा की मांग को लेकर शव को घर ले जाने से रोक दिया। प्रबंधन से समझौता के बाद कर्मचारी शांत हुए।

दरअसल मामला यह है कि मिनवुल राक फैक्ट्री में प्लांट इचार्ज रहे दीनदायल कालोनी कौरिनभाठा निवासी 40 वर्षीय विकाश पिता चन्द्रभान बाजपेयी ने बुधवार की रात अपने घर में फांसी लगा ली थी। परिजनों द्वारा आनन फानन में उसे उतार कर मेडिकल कालेज अस्पताल लाया गया था। जांच के बाद डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी का जिक्र
मिली जानकारी के अनुसार मृतक ने एक सुसाइड नोट लिखा है। जिसमें आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की बात लिखी है। हालांकि पुलिस सुसाइड नोट मिलने से इंकार कर रही है। सहयोगी कर्मचारियों ने बताया कि फैक्ट्री में लंबे समय से कर्मचारियों का शोषण हो रहा है। कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया जा रहा है। गौरतलब है कि फैक्ट्री के कर्मचारी वेतन की मांग को लेकर जिला प्रशासन से कई बार शिकायत कर चुके हैं। वहीं इस मामले में सड़क जाम भी कर चुके हैं।

बसंतपुर थाना के टीआईयाकूब मेमनने बताया कि मिनवुल राक फैक्ट्री के एक कर्मचारी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। पुलिस को कोई सुसाइट नोट नहीं मिला है। मर्ग कायम कर विवचेना किया जा रहा है। क्लेम के बाद आत्महत्या के कारणों का पता चलेगा।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे