Patrika Hindi News

> > > > Rajnandgaon: five hundred Old notes on going

यहां चल रहे पांच सौ के पुराने नोट, जरूर पढि़ए

Updated: IST  five hundred Old notes on going
नगर निगम में पुरानी कैरेंसी से टैक्स के रूप में 11 से लेकर 24 नवंबर तक सवा दो करोड़ रूपए की वसूली होने के बाद वसूली पर लगे ब्रेक के बाद अब बुधवार से फिर से वसूली के रास्ते खुल रहे हैं।

राजनांदगांव.नगर निगम में पुरानी कैरेंसी से टैक्स के रूप में 11 से लेकर 24 नवंबर तक सवा दो करोड़ रूपए की वसूली होने के बाद वसूली पर लगे ब्रेक के बाद अब बुधवार से फिर से वसूली के रास्ते खुल रहे हैं। दरअसल, हजार और पांच सौ की पुरानी कैरेंसी से टैक्स पटाने की सुविधा मिलने के बाद शहर के लोगों ने अपने बकाया टैक्स पटाए हैं। कल से 5 सौ रूपए की पुरानी कैरेंसी से नगर निगम में जलकर पटाया जा सकता है।

सात महीने में 4 करोड़ टैक्स वसूली

नोटबंदी के बाद केन्द्र सरकार ने नगरीय निकायों को पुरानी कैरेंसी से अपने टैक्स वसूलने की छूट दी थी। इस छूट का असर यह हुआ कि राजनांदगांव में पिछले सात महीने में नगर निगम को टैक्स के रूप में लगभग 4 करोड़ रूपए मिले थे जबकि 11 से लेकर 24 नवम्बर यानि 14 दिनों में ही इसके आधे से ज्यादा 2 करोड़ 32 लाख रूपए का टैक्स आ गया। लोगों ने जलकर, समेकितकर और सम्पत्तिकर के रूप में पुराने नोटों से अपने टैक्स जमा किए। इस आदेश की मियाद 24 नवम्बर को खत्म होने के बाद निगम में टैक्स की आवक पहले जैसे ही नाममात्र की रह गई।

आवक हो गई कम

नगर निगम में सालाना राजस्व वसूली का लक्ष्य 15 करोड़ रूपए है लेकिन हर साल लक्ष्य का बमुश्किल आधा ही वसूल हो पाता है। इस बार अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक सात महीनों में नगर निगम को 3 करोड़ 90 लाख रूपए टैक्स के रूप में मिले थे। इसके बाद नोटबंदी के बाद 14 दिनों में ही अच्छी खासी आवक हो गई। इसके बाद फिर राजस्व वसूली की गति धीमी हो गई। हालांकि अब तक लक्ष्य का आधा भी वसूल नहीं हो पाया है और साल के पूरा होने में 4 महीने ही बचे हंै। ऐसे में नगर निगम जलकर के रूप में कड़ाई दिखाकर लक्ष्य के करीब पहुंचने की कोशिश कर सकता है।

वरना कटेगा नल कनेक्शन

नगर निगम आयुक्त अश्विनी देवांगन ने बताया कि राज्य शासन से इस आशय का आदेश आज ही आया है कि नगरीय निकाय जलकर के रूप में पुराने 5 सौ के नोट स्वीकार कर सकते हैं। इसके बाद अब बुधवार से इस प्रकिया को प्रारंभ किया जाएगा। आयुक्त देवांगन ने बताया कि नगर निगम में वर्षों से जलकर नहीं पटाने वालों के लिए यह एक अच्छा अवसर है। उन्होंने कहा कि इसके बाद जलकर नहीं पटाने वालों की सूची तैयार की जाएगी और उनके नल कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। आयुक्त अश्विनी देवांगन ने बताया कि 5 सौ रूपए की पुरानी कैरेंसी से जलकर लेने का आदेश प्राप्त हुआ है। बुधवार से यह प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। जलकर नहीं पटाने वाले लोगों के नल कनेक्शन काटने की कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???