Patrika Hindi News

रघुवर दास बोले - यहां किसी की भी जमीन नहीं छीनी जाएगी

Updated: IST Jharkhand news, Jharkhand news in hindi, Ranchi ne
अडाणी समूह की ओर से राज्य में पूंजी निवेश करने की इच्छा जतायी गयी है और जनता स्वयं कंपनी को जमीन उपलब्ध करा रही है, क्योंकि लोग भी विकास चाहते हैं...

रांची। यहां झारखंड राज्य में कोई भी किसी की भी जमीन नहीं छीन सकता है। राज्य सरकार के पास जमीन की कोई कमी नहीं है, जो निवेशक यहां पूंजी निवेश करना चाहेंगे झारखंड आएंगे, उन्हें झारखंड सरकार हाथों हाथ जमीन उपलब्ध कराएगी। उक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही।

मुख्यमंत्री रघुवर दास गुरुवार को रांची के होटवार स्थित खेलगांव के निकट 21 परियोजनाओं के शिलान्यास और तीन परियोजनाओं के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि कुछ वोट के सौदागर और पर्दे के पीछे से गरीब-आदिवासियों को भड़काने की कोशिश करने वाले की मंशा सफल नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग इस राज्य की छवि को खराब करना चाहते है, बिखराव लाने का प्रयास कर रहे हैं। 14 वर्षों से राजनीतिक रोटी सेंकने के लिए मामले को उलझाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन अब मजबूत और निर्णय लेने वाली राज्य सरकार काम कर रही है। विकास के लिए जो भी बदलाव आवश्यक होगा, नियमों और कानूनों में सरलीकरण किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि कुछ लोग यह भ्रम फैलाने की कोशिश में हैं कि राज्य में आदिवासियों की जमीन छीन जाएगी, लेकिन सरकार की मंशा सिर्फ इतनी है कि आदिवासी भाई-बहनों का भी जीवन स्तर ऊपर उठे। पर्दे के पीछे से गरीब आदिवासी परिवारों को भड़काने वालों की मंशा पर प्रहार करते हुए कहा कि वे अपना काम करें और यदि राज्य का वातावरण बिगाड़ने और विकास को बाधित करने का प्रयास करेंगे, तो कानून अपना काम करेगा। उन्होंने कहा कि कानून को किसी को हाथ में लेने की छूट नहीं दी जा सकती है। किसी को वातावरण खराब करने की अनुमति नहीं दी जा सकती, चाहे वह रघुवर दास ही क्यों न हों।

मुख्यमंत्री ने बताया कि भ्रम की स्थिति पैदा कर कल वैसे गरीब, निरीह, आदिवासी परिवारों को रांची बुलाया गया, जो आज भी काफी पिछड़े हुए हैं, लेकिन आदिवासी के नाम पर राजनीति करने वाले लोग उन्हें आगे नहीं बढ़ने देना चाहते है।

रघुवर दास ने कहा कि अडाणी समूह की ओर से राज्य में पूंजी निवेश करने की इच्छा जतायी गयी है और जनता स्वयं कंपनी को जमीन उपलब्ध करा रही है, क्योंकि लोग भी विकास चाहते हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग इस विकास को अवरूद्ध करना चाहते है, लेकिन राज्य सरकार इस प्रयास को सफल नहीं होने देगी।

उन्होंने समाचार पत्र और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधियों से भी अपील की कि वे मिशन के तहत पत्रकारिता करें, राजनीति में आलोचना करें। इससे सीखने का मौका मिलता है, लेकिन झारखंड की छवि को न खराब करें और न वातावरण को खराब करें। क्योंकि देश-दुनिया में झारखंड की छवि को बेहतर बनाने में मीडिया की भूमिका काफी अहम है।

उन्होंने कहा कि रघुवर रहे या नहीं, यह राज्य और देश रहेगा, इसलिए नाकारात्मक छवि न बनने दें। उन्होंने कहा कि वे स्पष्टवादी हैं, वे खुद मजदूर रहे हैं और गरीबी के दर्द को उन्होंने देखा है। जनता ने गरीब को मुख्यमंत्री बनाया है। इसलिए वे खुद को भाग्यशाली समझ रहे हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???