Patrika Hindi News

दिल्ली के बिहार भवन पर दावेदारी ठोकेगा झारखंड

Updated: IST bihar bhavan, bihar bhawan, bihar day, bihar house
दिल्ली के चाणक्यपुरी में स्थित बिहार भवन पर झारखंड राज्य अपनी दावेदारी ठोकने की पूरी तैयारी कर चुका है...

रांची। दिल्ली के चाणक्यपुरी में स्थित बिहार भवन पर झारखंड राज्य अपनी दावेदारी ठोकने की पूरी तैयारी कर चुका है। जहां एक ओर झारखंड इस पर तैयारी कर चुका है, तो वहीं दूसरी ओर बिहार इस पर राजी नहीं है।

जानकारी के अनुसार मई-जून में भुवनेश्वर में होने वाले पूर्वी क्षेत्र परिषद की बैठक में इसे दमदार तरीके से उठाया जाएगा। इस बैठक में झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल और ओड़िशा केंद्रीय गृह मंत्रालय की अध्यक्षता में आपसी मुद्दों को सुलझाएंगे।

गौरतलब हो कि बिहार और झारखंड के बंटवारे के लिए 2000 में बनाए गए राज्य पुनर्गठन अधिनियम में बिहार भवन और बिहार निवास में से एक झारखंड को देने का प्रावधान है। लेकिन बिहार सरकार इसे नहीं मान रही है। इसे लेकर बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट में केस दायर कर चुकी है। केस सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। इस बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय बातचीत के जरिए इस विवाद को सुलझाने मे लगा है।

बिहार भवन के लिए झारखंड केंद्र सरकार की ओर से बताए गए समधान के तरीके से मसले को सुलझाने पर अड़ा हुआ है। इसके तहत केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि दिल्ली में बिहार के दो केंद्रों बिहार भवन और बिहार निवास में से जो छोटा हो उसे झारखंड को दे दिया जाए। अगर उसकी कीमत जनसंख्या अनुपात में झारखंड को इन भवनों में मिलने वाली हिस्सेदारी से ज्यादा है, तो वह बची हुई राशि झारखंड अदा करेगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के फॉर्मूले के तहत झारखंड को बिहार भवन और बिहार निवास में जो छोटा हो वह मिलना है। बिहार भवन इनमें से छोटा है। दूसरा, यह चाणक्यपुरी के कौटिल्य मार्ग जैसे महत्वपूर्ण स्थान पर है। झारखंड सरकार को केंद्र के फॉर्मूले के तहत गुरुद्वारा बांग्ला साहिब के पास आवंटित भूखंड बिहार को हस्तांतरित करने हैं। इसके लिए भुगतान की गई राशि झारखंड बिहार को लौटा देगा। झारखंड सरकार के रणनीतिकारों का विश्वास है कि आने वाले दिनों में इस फॉर्मूले पर बिहार तैयार हो सकता है। इसलिए बिहार भवन लेने को लेकर दबाव बनाया जाए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???