Patrika Hindi News

48 हजार टन की हो गई बुकिंग, मालवा क्षेत्र से बड़ी संख्या में प्याज जाने लगा बाहर 

Updated: IST Indian Railway
लोड हो रही मालगाडिय़ां ट्रेन में चढ़ा 38 हजार टन प्याज,प्रशासन ने अब रतलाम के प्याज को बड़ी मात्रा में जबलपुर और गुना तक ट्रेन से भेजना शुरू कर दिया है।

रतलाम। प्रशासन ने अब रतलाम के प्याज को बड़ी मात्रा में जबलपुर और गुना तक ट्रेन से भेजना शुरू कर दिया है। समर्थन मूल्य पर खरीदे गए प्याज को ट्रेन पर सवार कर अन्य जगह भेजा जा रहा है। रतलाम मंडल से सोमवार तक करीब 38 हजार 400 टन प्याज को ट्रेन रेक के जरिए अन्य जिलों में भेजा है, जबकि 48 हजार टन की बाहर भेजने के लिए बुकिंग की गई है।

परिचालन विभाग के अधिकारियों की माने तो मंडल के नौ स्टेशन से अब तक जो 16 रेक भेजे गए, उनमें से सबसे अधिक तो संस्कार राजधानी जबलपुर जोन में गए हैं। इसमे भी सबसे अधिक प्याज के रेक गुना में गए। इसके अलावा जो फिलहाल बुकिंग है वो ज्यादातर इन्हीं क्षेत्रों की है। एक रेक में करीब 2400 टन प्याज आता है। पिछले एक सप्ताह में अलग-अलग रेलवे स्टेशनों से करीब 16 रेक प्याज के बाहर के स्टेशन के लिए गए है।

Indian Railway

कहां से गए कितने रैक

देवास 1 रेक
विक्रमगढ़ 4 रेक
लक्ष्मीबाईनगर 2 रेक
जावरा 4 रेक
शुजालपुर 3 रेक
सीहोर 2 रेक

जावरा से चार रैक

नागरिक आपूर्ति निगम के माध्यम से जिले में जावरा से यह प्याज परिवहन कर रहे है, फिलहाल जावरा से चार रेक जबलपुर, गुना, नरसिंहपुर और छतरपुर पहुंचाई गई हैं।

हमारी तैयारी है

अब तक करीब 16 रेक हमने प्याज के बाहर भेजे हैं। आगे 20 रेक भेजने की तैयारी है। हमारे पास प्याज या अन्य सामान कहीं भी भेजने के लिए रेक की कमी नहीं है।

- मनोज शर्मा, मंडल रेल प्रबंधक, रतलाम रेल मंडल

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???