Patrika Hindi News

60 फीसदी कर्मचारियों को राहत

Updated: IST
बिजली कंपनी ने किए थे रतलाम जिले में थोकबंद लाइन स्टाफ के 149 कर्मचारियों के तबादले

रतलाम। बिजली कंपनी में लाइन स्टॉफ के हुए थोकबंद तबादलों को लेकर गरमाई राजनीति में अब वीराम लगता दिखाई दे रहा है। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर ने कुछ बिंदुओं पर कर्मचारियों के तबादलें नहीं करने की छूट देते हुए सीधे अधीक्षण यंत्री को दूरभाष पर निर्देश दे दिए हैं। इन नए निर्देशों से लाइन स्टॉफ के जिन 149 कर्मचारियों के तबादले हुए थे उनमें से करीब 60 फीसदी को राहत मिल जाएगी। शेष बचे हुए कर्मचारियों को भी फ्यूज सेंटर बदल कर तबादले कर दिए जाएंगे।

मप्र बिजली कर्मचारी महासंघ के कार्यकारी अध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा और प्रदेश मंत्री लोकेश कटारिया ने दूरभाष पर पत्रिका को बताया कि कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर आकाश त्रिपाठी और जनरल मैनेजर मनोज पुष्प ने इंदौर में स्थानांतरण को लेकर बुलाया था। बैठक के दौरान हमने संघ की तरफ से अपनी बात रखते हुए कहा कि कोई तबादला नीति स्पष्ट नहीं होने और लाइनमैन के क्षेत्र में कार्य करने के दौरान उस क्षेत्र की बिजली वितरण व्यवस्था पूरी तरह समझी हुुई होने के साथ ही अधिक उम्र होने से तबादले नहीं किए जाएं।

सुझाव भी दिए

इस पर मैनेजिंग डायरेक्टर त्रिपाठी और फिर जनरल मैनेजर पुष्प से चर्चा हुई। इस दौरान सुझाव भी लिए गए और कुछ सुझाव संघ को भी दिए गए। मुलाकात के दौरान रतलाम से कटारिया व शर्मा के अलावा इंदौर के केके तिवारी, हरीश ठोमरे के साथ ही उज्जैन, इंदौर, देवास, खरगौन, मंदसौर व नीमच से भी संघों के पदाधिकारी साथ थे।

ये हुए निर्णय

- 50 साल से ज्यादा आयु वालों को डिवीजन से बाहर नहीं भेजा जाएगा।

- ट्रेड यूनियनों के पदाधिकारियों को तबादलों से मुक्त रखा जाएगा।

- ग्रीड पर ड्यूटी करने वाले राजस्व में नहीं होने से उन्हें भी नहीं बदला जाएगा।

- 15 साल से एक ही डिवीजन में होने और वितरण केंद्र बदलते रहने वालों को भी मुक्त रखेंगे।

- दिव्यांग कर्मचारियों के तबादले नहीं होंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???