Patrika Hindi News

भीख मांगी, 105 रु.  मिले

Updated: IST Begged, 105 Rs. meet
धरने पर बैठे अतिथियों ने पहले कालिका माता के चरणों में प्रस्तुत किया ज्ञापन फिर निकले भीख मांगने

रतलाम। मांगों को लेकर धरने पर बैठे अतिथि शिक्षकों ने दूसरे दिन आम लोगों से भीख मांगने की प्रक्रिया की। करीब 50 से ज्यादा अतिथि भीख मांगने निकले तो लोगों ने उन्हें दी भी सही लेकिन आखिर में जोड़ होने पर यह महज 105 रुपए ही हुए।

अतिथि शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष कृष्णकुमार सैनी ने बताया भीख में मिली राशि को वे मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करवाएंगे। कालिका माता बगीचे में नियमितिकरण की मांग को लेकर धरने पर बैठे अतिथि शिक्षक दोपहर करीब दो बजे सामूहिक रूप से कालिका माता मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने ज्ञापन की कॉपी कालिका माता के चरणों में रखकर प्रार्थना की कि सरकार उनकी जल्द सुनवाई करके मांगे पूरी कर दें।

साड़ी के पल्लू में मांगी भीख

कालिका माता मंदिर से अतिथि कोर्ट चौराहे पर आए और भीख मांगना शुरू कर दिया। महिला और पुरुष अलग-अलग दल बनाकर चौराहे पर खड़े लोगों और राहगिरों से भीख मांगते रहे। किसी ने साड़ी का पल्लू आगे करके भीख मांगी तो किसी ने चुनरी आगे बढ़ाई। पुरुष अतिथि शिक्षकों ने स्वेटर उतारकर उसमें ही भीख की राशि एकत्रित करना शुरू किया।

कलेक्टर, एडीएम से भी मांगी

भीख मांगते हुए अतिथि शिक्षक कलेक्टोरेट परिसर पहुंचे और यहां भी अधिकारियों व कर्मचारियों से भीख मांगने लगे। इसी दौरान वे कलेक्टर बी चंद्रशेखर और एडीएम कैलाश बुंदेला के चैंबर तक भी चले गए। यहां दोनों अधिकारियों से भीख मांगी। हालांकि यहां से उन्हें निराश ही लौटना पड़ा क्योंकि अधिकारियों ने उन्हें कोई राशि नहीं दी और लौटा दिया।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???