Patrika Hindi News

> > > > Now Taking off parcel coach trains

@INDIAN RAILWAY- ट्रेनों से अब हटेगा पार्सल कोच

Updated: IST Ratlam News
कुमार ने रेल विकास शिविर में सुझाव दिया था कि यात्री ट्रेन में पार्सल डिब्बे को हटाकर यात्री डिब्बा लगा दिया जाए। इससे यात्रियों को लाभ होगा साथ ही ट्रेन की गति भी बढेग़ी।

रतलाम। रेल मंडल के वरिष्ठ परिचालन प्रबंधक पवन कुमार सिंह के प्रस्ताव को रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने स्वीकार लिया है। कुमार ने रेल विकास शिविर में सुझाव दिया था कि यात्री ट्रेन में पार्सल डिब्बे को हटाकर यात्री डिब्बा लगा दिया जाए। इससे यात्रियों को लाभ होगा साथ ही ट्रेन की गति भी बढेग़ी। कुमार उन अधिकारियों-कर्मचारियों में शामिल है जिनको रेल विकास शिविर में रेल मंत्री प्रभु के सामने अपनी बात कहने का मौका मिला।

असल में रेलवे ने एक दिन का रेलमंत्री प्रतियोगिता का आयोजन किया था। इसमें रेलवे के गु्रप ए से लेकर डी तक के अधिकारियों व कर्मचारियों से फॉर्म भरवाए थे। अपने विजन को कर्मचारी को बताना था कि वो एक दिन के लिए रेलमंत्री बने तो क्या काम सबसे पहले करेंगे। इस फॉर्म को सीधे रेलवे बोर्ड द्वारा दिए गए नंबर पर सोशल मीडिया के माध्यम से भेजना था। पश्चिम रेलवे में कुल 36 कर्मचारियों का चयन हुआ था, जिसमें कुमार भी शामिल थे।

कोच हटाने से तीन तरह से लाभ

कुमार ने रेलमंत्री के सामने बताया कि पार्सल कोच हटाने से तीन तरह से लाभ होगा। पहले तो कोच में लगेज रखने व उतारने के दौरान जो समय लगता है वह बचेगा। कोच के स्थान पर यात्रियों के लिए एक कोच लगाए तो प्रतिक्षा के टिकट की संख्या कम होगी। इतना ही नहीं, ट्रेन समय पर व तेज गति से चलेगी। रेलवे बोर्ड ने मंडल में सूचना दी हैं कि कुमार के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। आगामी दिनों में इस पर किस तरह से अमल में लाया जा सकता है इसके लिए विस्तार से योजना बनेगी।

यात्रियों के लिए कोच लगेगा

रेल विकास शिविर में परे से 36 सदस्यों का दल गया था, जो प्रस्ताव दिए उन्हें मंजूर किया। अब बोर्ड ये योजना बना रहा हैं कि इसे अमल में किस तरह और बेहतर तरीके से लाए। आने वाले दिनों में पार्सल डिब्बे की जगह यात्रियों के लिए कोच लगेगा।

जेके जयंत, जनसंपर्क अधिकारी, रतलाम रेल मंडल

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???