Patrika Hindi News

Indian Railway- रेलमंत्री को मिल रहे है दिलचस्प जवाब

Updated: IST confirm railway ticket on festive season
रेलवे ने एक दिन के रेलमंत्री बने तो क्या करेंगे का सवाल अपने कर्मचारियों से किया था। रतलाम के सुरक्षा कुमार नेे लिखा की रेल कर्मचारियों की संख्या बढ़ाई जाए। अब तक करीब 13 लाख से अधिक जवाब पहुंच गए है।

रतलाम। अधिक दिन नहीं हुए, जब रेल मंत्री सुरेश पी प्रभु ने अपने कर्मचारियों से सवाल किया कि अगर एक दिन के रेलमंत्री बनाए जाए तो वे क्या करेंगे। अब तक जो जवाब पहुंचे है, उनमे से कुछ को छोड़ दिया जाए तो अधिकांश में व्यक्तिगत शिकायते या तबादले की मांग की गई है। हांलाकि कुछ सुझाव बेहतर भी आए है व इन पर रेलवे आने वाले दिनों में अमल करेगा।

रेलवे में बेहतरी के लिए मांगे गए सुझाव के बाद अब इन पर अमल करने की तैयारी हो रही है। रतलाम के एक कर्मचारी सुरक्षा कुमार ने जहां रेल कर्मचारियों की संख्या को बढ़ाने का सुझाव दिया तो एक अन्य कर्मचारी राजेश कुमार ने रेलवे बोर्ड को भंग करने व इस व्यवस्था को ही बंद करने का सुझाव दे डाला। रेलवे बोर्ड के एक कर्मचारी के अनुसार 13 लाख सुझावों को पढ़ा जा रहा है। इनमे से जो बेहतर है, उन पर अमल किया जाएगा।

पहला कोच सिर्फ महिलाओं के लिए

अलग-अलग सुझाव में एक सुझाव पर रेलवे जल्द अमल शुरू करने जा रहा है। अधिकारियों के अनुसार इंजन के ठीक बाद पहला डिब्बा सिर्फ महिलाओं के लिए हर ट्रेन में रखा जा सकता है। अब तक ये किसी ट्रेन में अंतिम छोर पर होता हैं तो किसी ट्रेन में होता ही नहीं है। इन सुझाव को रेलविकास शिविर नाम से मंगवाए गए है। अब इनकी छटनी होने के बाद नवंबर माह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोंदी से चयन किए गए 800 कर्मचारियों से रेलवे मिलवाएगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???