Patrika Hindi News

> > > > JP Company Planted Administration approached

जेपी कंपनी ने लगाई प्रशासन से गुहार, कहा-हमारी लीज बचा लो

Updated: IST JP Company
आधा दर्जन लगी अवैध खदानें, जिला खनिज अधिकारी ने कलेक्टर को भेजा जांच प्रतिवेदन, जेपी प्रबंधन ने जिला प्रशासन विभागीय अधिकारियों को आवेदन देकर रोक लगाए जाने की मांग की है।

रीवा। जेपी की स्वीकृत खदान में क्रसर एसोसिएशन के अध्यक्ष सहित आधा दर्जन रसूखदार जबरिया खनन करा रहे हैं। जेपी प्रबंधन ने जिला प्रशासन विभागीय अधिकारियों को आवेदन देकर रोक लगाए जाने की मांग की है।

साथ ही अब तक किए गए अवैध खनन की रॉयल्टी वसूल किए जाने की मांग उठाई है। मामले में कलेक्टर राहुल जैन ने शिकायत के आधार पर एडिशनल एसपी, खनिज और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम गठित कर कार्रवाई का आदेश दिया है।

जिला खनिज कार्यालय की ओर से कलेक्टर को भेजे गए जांच प्रतिवेदन के अनुसार जेपी प्रबंधन ने बनकुंइया क्षेत्र में स्वीकृत खदान पर दस एकड़ से अधिक एरिया में अवैध खनन किए जाने की शिकायत की है।

अवैध खनन की शिकायत

जिला खनिज अधिकारी संजीव कुमार पांडेय की ओर से कलेक्टर को भेजी गई जानकारी के अनुसार क्रशर एसोसिएशन के अध्यक्ष मोतीलाल पांडेय सहित संतोष सोहगौरा, रमेश पाठक, अनिल पांडेय सहित आधा दर्जन कथित खनन करोबारियों के खिलाफ अवैध खनन की शिकायत की है।

खदान में जबरिया खनन

जेपी प्रबंधन ने अफसरों को अर्जी देकर बताया है कि खनन कारोबारी कंपनी के कर्मचारियों को धमका कर स्वीकृत खदान में जबरिया खनन कर रहे हैं। पत्थर खनने के लिए बड़ी मशीनों का भी उपयोग कर रहे हैं। इतना ही नहीं मनमानी तरीके से खदानों में विस्फोट करके पत्थर का खनन कर अवैध तरीके से परिवहन किया जा रहा है।

जेपी प्रबंधन की शिकायत मिली है, मामले में जेपी प्रबंधन को निजी सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं, साथ ही जिला खनिज अधिकारी सहित एसडीएम और एडीशनल एसपी की संयुक्त टीम गठित कर जांच रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट आने के बाद अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

राहुल जैन, कलेक्टर

जेपी प्रबंधन के आवेदन दिए जाने पर मौके से एक ट्रैक्टर को अवैध परिवहन करते पकड़ा गया है। खनन करने वालों को चिंहित कर लिया गया है। कार्रवाई के लिए पर्याप्त बल की जरूरत पड़ेगी। कलेक्टर की ओर से टीम गठित की गई है। संयुक्तरूप से छापामार कर कार्रवाई की जाएगी।

संजीव मोहन पांडेय, जिला खनिज अधिकारी

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे